• Hindi News
  • Mp
  • Gwalior
  • ‘दाता नहीं है श्रीराम जैसा सेवक नहीं हनुमान के जैसा’
--Advertisement--

‘दाता नहीं है श्रीराम जैसा सेवक नहीं हनुमान के जैसा’

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 03:05 AM IST

Gwalior News - रोकड़िया सरकार पर आयोजित तीन दिवसीय हनुमान जयंती महोत्सव के दूसरे दिन रविवार को भजन संध्या का आयोजन किया गया।...

‘दाता नहीं है श्रीराम जैसा सेवक नहीं हनुमान के जैसा’
रोकड़िया सरकार पर आयोजित तीन दिवसीय हनुमान जयंती महोत्सव के दूसरे दिन रविवार को भजन संध्या का आयोजन किया गया। कोलकाता से आए भजन गायक संजू शर्मा ने ‘दाता नहीं है श्रीराम जैसा सेवक नहीं हनुमान जी जैसा’, ‘श्रीराम की गली में तुम आ जाना’ भजन सुनाए, जिसे सुनकर श्रद्धालु भक्तिभाव से झूम उठे। इसके उपरांत कोलकाता के संजय मित्तल व जयपुर की उमा लहरी व विमल दीक्षित ने भजनों की मनमोहक प्रस्तुति दी।

गुरु के आशीर्वाद से सीखा भजन गाना:

भजन गायक विमल दीक्षित ने बताया कि बचपन से ही उन्हें गाने का शौक रहा है, लेकिन कभी उचित मंच नहीं मिला। जब वो 7 वीं क्लास में थे तभी पलवल में रश्का पागल बाबा उन्हें मिले और उनके आशीर्वाद से उन्हें गायकी के नए आयाम मिले और उन्होंंने मंच से भजन गाने शुरू कर दिए। यह उनके दिए आशीर्वाद का ही परिणाम है कि वो आज तक देश के बड़े गायकों के साथ भजन गा चुके है। आगे उन्होंने बताया कि वे अपने ही कंपोज किए भजन को ही गाते है।

बालाजी महाराज का आज निकलेगा चल समारोह: श्री बजरंग बाल मंडल के तत्वावधान में 2 अप्रैल को शाम 5 बजे बालाजी महाराज का 11 वां भव्य चल समारोह मैना वाली गली से निकाला जाएगा। गौरव महाराज, कार्यक्रम अध्यक्ष गोकुल बंसल एवं संत अच्युतानंद महाराज ने रविवार को संवाददाताओं से चर्चा के दौरान बताया कि शोभायात्रा में दंदरौआ धाम के महंत महामंडलेश्वर रामदास महाराज, गंगादास की शाला के महंत रामसेवकदास शामिल होंगे। 3 अप्रैल को मेंहदीपुर बालाजी के महंत धीरजपुरी महाराज भी आएंगे। इस दिन फूलबंगला व भंडारा होगा।

रोकड़िया सरकार पर आयोजित हनुमान जयंती महोत्सव में भजन सुनते श्रद्धालु।

X
‘दाता नहीं है श्रीराम जैसा सेवक नहीं हनुमान के जैसा’
Astrology

Recommended

Click to listen..