• Home
  • Mp
  • Gwalior
  • नियमित होंगे बिजली कंपनी के संविदाकर्मी
--Advertisement--

नियमित होंगे बिजली कंपनी के संविदाकर्मी

ग्वालियर| राज्य शासन ने प्रदेश में कार्यरत सभी छह बिजली कंपनियों में काम करने वाले संविदा कर्मचारियों के लिए गठित...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:05 AM IST
ग्वालियर| राज्य शासन ने प्रदेश में कार्यरत सभी छह बिजली कंपनियों में काम करने वाले संविदा कर्मचारियों के लिए गठित समिति की अनुशंसा के नियमों को मानते हुए संशोधित नियम जारी कर दिए हैं। नए नियमों के तहत चार साल की नौकरी कर चुके संविदा कर्मचारी नियमित हो सकेंगे।नए नियमों के अनुसार चार साल की नौकरी कर चुके संविदा कर्मचारी प्रतियोगी परीक्षा के माध्यम से नियमित पद पर चुने जा सकेंगे। संविदा कर्मचारियों की परीक्षा की अलग से मेरिट लिस्ट तैयार की जाएगी। इसे लेकर लाइन स्टाफ के लिए 40 फीसदी और अन्य पदों के लिए 25 फीसदी पद आरक्षित किए गए हैं। सातवें वेतनमान के मैट्रिक्स के अनुसार कर्मचारियों को 90 से 95 फीसदी वेतन दिया जाएगा।

नियमितीकरण की मांग को लेकर भोपाल में धरना आज: पॉलीटेक्निक अतिथि व्याख्याता नियमितीकरण की मांग को लेकर 2 अप्रैल को भोपाल में धरना देंगे। अतिथि व्याख्याता तीन वर्ष से आंदोलन कर रहे हैं।

शिक्षकों को मिली ई-अटेंडेंट से राहत: ई-अटेंडेंस में राहत देने पर कर्मचारियों ने मुख्यमंत्री की सराहना की है। मुख्यमंत्री ने रविवार को शिक्षकों की ई-अटेंडेंट योजना को स्थगित करने एवं राज्यकर्मियों के समान निगम मंडलों में कार्यरत कर्मचारियों की भी सेवानिवृत्ति आयु 62 वर्ष करने की घोषणा की है। यह जानकारी संघ के प्रांतीय सचिव जगमोहन गुप्ता ने दी।

कर्मचारी हलचल

12 व 13 को हड़ताल पर रहेंगे लिपिक

मप्र लिपिक वर्गीय कर्मचारी 12 और 13 अप्रैल को हड़ताल पर रहेंगे। प्रदेश के लिपिक वर्गीय कर्मचारी लंबे समय से अपनी मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे हैं। लेकिन सरकार उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दे रही। इसके चलते कर्मचारियों ने हड़ताल पर जाने का निर्णय लिया है। यह जानकारी मप्र लिपिक वर्गीय शासकीय कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष राघवेंद्र सिंह कुशवाह ने पत्रकार वार्ता में दी।

संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों की हड़ताल स्थगित: संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के आह्वान पर पिछले 43 दिन से चली आ रही हड़ताल रविवार को मुख्यमंत्री के अाश्वासन के बाद कर्मचारियों ने स्थगित कर दी है। संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी सोमवार से काम पर लौट आएंगे। यह जानकारी मीडिया प्रभारी धर्मवीर शुक्ला ने दी।

जेयू में कर्मचारियों की हड़ताल जारी: मप्र विश्वविद्यालयीन(गैर शिक्षक) कर्मचारी महासंघ के आह्वान पर जेयू सहित प्रदेशभर के विवि के कर्मचारी 8 मार्च से क्रमिक हड़ताल पर हैं। कर्मचारी रविवार को भी हड़ताल पर रहे। महासंघ के प्रदेशाध्यक्ष राकेश गुर्जर का कहना है कि मांगें पूरी न होने तक हड़ताल जारी रहेगी।