Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» विरोध के बाद भी नहीं लिया अफसरों ने एक्शन

विरोध के बाद भी नहीं लिया अफसरों ने एक्शन

ग्वालियर

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 03:10 AM IST

विरोध के बाद भी नहीं लिया अफसरों ने एक्शन
ग्वालियर डीबी स्टार

कंपू तिराहे पर शराब की दुकान खोलने के विरोध में आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता भी एडीएम शिवराज वर्मा से मिलकर ज्ञापन सौंप चुके हैं। कार्यकर्ताओं ने भी मांग की थी कि इस तिराहे के आसपास कई धार्मिक स्थल हैं। इसके अलावा यहां हजारों छात्राओं का भी आवागमन होता है। ऐसे में असामाजिक तत्व छेड़खानी की घटना को अंजाम दे सकते हैं। केआरजी कॉलेज की छात्राओं ने भी इस संबंध में पीआईएल लगाई है।

झूठ बोलते रहे दुकान मालिक और ठेकेदार

बहादुरा हलवाई परिवार के बीएस शर्मा ने इस वाइन शॉप और बीयर बार के लिए अपनी दुकान किराए पर दी है। डीबी स्टार टीम ने गत सोमवार 26 मार्च को जब श्री शर्मा से बात की, तो वह इस मामले में झूठ बोल गए। उनका कहना था कि मेरी खुद की स्टेशनरी की दुकान बहुत अच्छी चल रही है। ऐसे में मैं किसी को दुकान किराए पर नहीं दे रहा हूं। वहीं गत 28 मार्च को जब वाइन शॉप का संचालन करने वाली फर्म गोवर्धनदास एंड कंपनी के पार्टनर मुकेश गुप्ता से बात की, तो उनका भी कहना था कि दुकान नया बाजार स्थित नियत जगह पर खुलेगी, न कि कंपू तिराहे पर। इन दोनों की रिकॉर्डेड बातचीत डीबी स्टार के पास मौजूद है।

हमने पीआईएल लगाई है

 कॉलेज का छात्रसंघ इस शराब की दुकान के विरोध में है। इसी के चलते हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका लगाई गई है। इसके अलावा हम प्राचार्य के माध्यम से भी प्रशासनिक अफसरों के संज्ञान में यह विषय लेकर आएंगे, ताकि इस मामले में उचित कार्रवाई हो सके। आध्या दीक्षित, छात्रसंघ अध्यक्ष केआरजी कॉलेज

नियमों का पालन किया है

 आबकारी विभाग के नोटिफिकेशन के आधार पर ही पूरी पैमाइश कर हमने यह दुकान खोली है। विभाग के मापदंडों के मुताबिक ही अस्पताल और कॉलेज से निर्धारित दूरी रखी गई है। हम किसी भी जांच के लिए तैयार हैं। नियमों का उल्लंघन हुआ, तो हम दुकान शिफ्ट कर देंगे। अमित गुप्ता, संचालक वाइन शॉप

डीबी स्टार में 29 मार्च को प्रकाशित खबर।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×