• Home
  • Mp
  • Gwalior
  • जैन मंदिर कमेटी चुनाव की मांग कर रहे युवा संगठन के प्रभारी के साथ मारपीट
--Advertisement--

जैन मंदिर कमेटी चुनाव की मांग कर रहे युवा संगठन के प्रभारी के साथ मारपीट

मुरार स्थित श्री दिगम्बर जैन पंचायती मंदिर के चुनाव की मांग कर रहे जैन युवा संगठन प्रभारी के साथ रविवार शाम को...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:10 AM IST
मुरार स्थित श्री दिगम्बर जैन पंचायती मंदिर के चुनाव की मांग कर रहे जैन युवा संगठन प्रभारी के साथ रविवार शाम को मारपीट हो गई। उन्होंने कमेटी के अध्यक्ष, महामंत्री और उनके परिजनों पर मारपीट करने का आरोप लगाया है। पुलिस इस मामले में मंदिर के अध्यक्ष, महामंत्री और अन्य लोगों को रात को थाने ले आई। रात को मुरार थाने में अध्यक्ष और उनके बेटे पर एफआईआर हो गई।

जैन संतर में जैन मंदिर कमेटी के चुनाव पिछले 9 साल से नहीं हुए हैं। जैन समाज के लोगों का कहना है कि अध्यक्ष गिरीश जैन और महामंत्री नरेश जैन चुनाव नहीं होने दे रहे। न ही यह लोग हिसाब दे रहे हैं। जैन युवा संगठन के प्रभारी प्रतीक जैन ने बताया कि संगठन चुनाव की लगातार मांग कर रहा है। शनिवार को चुनाव के संबंध में बैठक होनी थी लेकिन रद्द कर दी गई। रविवार को प्रतीक अपने दोस्त की मेडिकल के पास खड़ा था, तभी वहां अध्यक्ष गिरीश जैन, उनका बेटा तरुण जैन, महामंत्री नरेश जैन और अन्य लोग आ गए। उन्होंने आते ही उसके और उसके दोस्त के साथ लाठी, डंडे और सरियों से मारपीट शुरू कर दी। वहां मौजूद लोग जब आए तो वे भाग गए। इन्होंने वहीं से पुलिस को सूचना दी। पुलिस पहुंची और इन लोगों को थाने ले आई। रात को इसमें एफआईआर दर्ज हो गई। इस संबंध में थाने में मौजूद गिरीश जैन से बात की तो उन्होंने कहा कि उन पर लगे आरोप झूठे हैं।

मुरार थाना में शिकायत करते प्रतीक व साथी।

मारपीट के मामले में चेंबर के पूर्व पदाधिकारी और अन्य पर केस दर्ज: शनिवार रात को दो पक्षों में हुए झगड़े में मार्केट मालिक की शिकायत पर चेंबर के पूर्व पदाधिकारी हेमंत गुप्ता सहित अन्य लोगों पर भी एफआईआर दर्ज हो गई। जनकगंज थाना क्षेत्र के अंतर्गत शनिवार रात को कारोबारी हेमंत गुप्ता के बेटे सौरभ गुप्ता और मार्केट मालिक धर्मेन्द्र गुर्जर के बीच झगड़ा हो गया। इसमें दोनों पक्षों के बीच मारपीट हुई। सौरभ गुप्ता गंभीर रूप से घायल हुए। इस मामले में देर रात धर्मेन्द्र गुर्जर और अन्य लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई थी। रविवार को धर्मेन्द्र ने हेमंत गुप्ता, मुन्ना गुप्ता, पिंटू उर्फ संजीव गुप्ता एवं अन्य तीन लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई।