• Home
  • Mp
  • Gwalior
  • प्रोफेसरों की नियुक्तियों में विवाद से बचने के लिए जेयू बना रही गुड अकेडमिक रिकॉर्ड
--Advertisement--

प्रोफेसरों की नियुक्तियों में विवाद से बचने के लिए जेयू बना रही गुड अकेडमिक रिकॉर्ड

जीवाजी यूनिवर्सिटी की अध्ययनशालाओं में लगभग 50 पदों पर प्रोफेसर, एसोसिएट प्रोफेसर व असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 03:10 AM IST
जीवाजी यूनिवर्सिटी की अध्ययनशालाओं में लगभग 50 पदों पर प्रोफेसर, एसोसिएट प्रोफेसर व असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर भर्ती की जानी हैं। इसके लिए जेयू प्रशासन ने आवेदनों को स्क्रूटनी करना शुरू कर दिया है। प्रोफेसरों की भर्ती के लिए इंटरव्यू आयोजित होने से पहले जेयू प्रशासन द्वारा गुड अकेडमिक रिकॉर्ड तैयार कराया जा रहा है। कॉलेज व यूनिवर्सिटी में पढ़ाने वाले अतिथि विद्वानों को वेटेज अंक देने का निर्धारण एक्सपर्ट कमेटी कर रही है। इसी तरह जर्नल के इंपैक्ट फैक्टर के हिसाब से वेटेज अंक तय होंगे। कमेटी तय करेगी कि लोकल स्तर में जर्नल प्रकाशित होने व इंटरनेशनल जर्नल्स में पेपर प्रकाशित होने पर आवेदक को कितने वेटेज अंक दिए जाएंगे। इस बार आवेदक इंटरव्यू वीडियो कैमरे की नजर में देंगे।

कैमरे की नजर में होंगे इंटरव्यू

प्रोफेसरों की भर्ती के दौरान होने वाले इंटरव्यू वीडियो कैमरे की निगरानी में कराए जाएंगे। कुलपति ने ऐसा निर्णय इसलिए लिया है ताकि किसी भी तरह की जांच होने पर आवेदकों से पूछे जाने वाले सवालों के जवाब की जानकारी की क्लिप दिखाई जा सके। दरअसल वर्ष 2013 में पूर्व कुलपति प्रो. एम. किदवई के कार्यकाल में प्रोफेसरों के 17 पदों की नियुक्तियों को विवाद खड़ा हो गया था। इसकी शिकायतें हुईं तो अब तक सीआईडी जांच कर रही हैं। ऐसे आरोपों से बचने के लिए इस बार वीडियो कैमरे की निगरानी में इंटरव्यू कराए जा रहे हैं।

सेल्फ फाइनेंस कोर्स में भर्ती के लिए अलग बनेंगे परिनियम: उच्च शिक्षा विभाग ने सेल्फ फाइनेंस कोर्स में प्रोफेसरों की भर्ती करने के लिए अलग परिनियम बनाने को कहा है। इससे जेयू के इंजीनियरिंग संस्थान, फॉर्मेसी, पर्यटन संस्थान सहित अन्य कोर्स में नियुक्तियां करने का रास्ता साफ हो जाएगा। अभी जेयू के सेल्फ फाइनेंस कोर्स अतिथि विद्वानों के भरोसे संचालित हो रहे हैं।

गुड एकेडमिक रिकॉर्ड तैयार कर रहे हैं