• Home
  • Mp
  • Gwalior
  • दिन का पारा सामान्य से 6.7 डिग्री अधिक हुआ रिकॉर्ड पिछले साल की तुलना में 4 डिग्री ज्यादा बढ़ा तापमान
--Advertisement--

दिन का पारा सामान्य से 6.7 डिग्री अधिक हुआ रिकॉर्ड पिछले साल की तुलना में 4 डिग्री ज्यादा बढ़ा तापमान

इस साल गर्मी मार्च में ही रिकॉर्ड तोड़ रही है। इस बार तपिश ज्यादा है। साथ ही पारा भी तेजी से बढ़ रहा है। इसी के चलते...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 03:15 AM IST
इस साल गर्मी मार्च में ही रिकॉर्ड तोड़ रही है। इस बार तपिश ज्यादा है। साथ ही पारा भी तेजी से बढ़ रहा है। इसी के चलते लोगों को अभी से ही दोपहर में गर्मी बेचैनी का अहसास करा रही है। शनिवार को दिन का पारा सामान्य से 6.7 डिग्री सेल्सियस अधिक पहुंच गया। पिछले साल 3 मार्च को जहां अधिकतम तापमान 32.1 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ था। वहीं इस साल 3 मार्च को अधिकतम तापमान 36.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ हैं। तेजी से बढ़ते तापमान ने मौसम वैज्ञानिकों की चिंता बढ़ा दी है। मौसम विभाग का कहना है कि ऊपरी सतह पर हवा का रुख विपरीत है यानी एंटी क्लाॅक वाइज चल रही है। इसी से तापमान के साथ तपिश बढ़ी है।

सुबह 10 बजे ही पारा 30 डिग्री के पार पहुंचा

मार्च के अंतिम सप्ताह के बाद पारा 35 डिग्री के पार पहुंचता था। लेकिन जलवायु परिवर्तन व हरियाली की कमी के चलते मार्च की शुरुआत में ही रफ्तार से पारा बढ़ रहा है। मार्च में 30 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने वाला पारा 36 डिग्री के पार पहुंच चुका है। तपिश का आलम यह है कि सुबह 10 बजे ही पारा 30 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंच जाता है। यह सिलसिला दोपहर 4 बजे तक चलता है। शाम 5 बजे के बाद सूरज नरम होने के बाद गर्मी से थोड़ी राहत मिल रही है। तापमान तेजी से बढ़ने के कारण मच्छरों का प्रकोप भी बढ़ा है।

इस बार मार्च में तपिश ज्यादा, तेजी से बढ़ रहा है पारा इसलिए गर्मी ने बढ़ाई बेचैनी

पतझड़ शुरू

36.2 डिग्री रिकॉर्ड हुआ पारा

शनिवार को पिछले दिन की तुलना में अधिकतम तापमान 0.6 डिग्री सेल्सियस बढ़त के साथ 36.2 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य से 6.7 डिग्री अधिक रहा। जबकि न्यूनतम तापमान 2.5 डिग्री सेल्सियस गिरावट के साथ 14.5 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य से 2 डिग्री अधिक रहा। सुबह की आर्द्रता 55 फीसदी रही। यह सामान्य से 1 फीसदी अधिक रही। शाम की आर्द्रता 22 फीसदी रही। यह सामान्य से 5 फीसदी कम रही।

नमी में आई गिरावट, बढ़ेगी गर्मी

मौसम वैज्ञानिक उमाशंकर चौकसे के मुताबिक गर्मी ने पूरी तरह से दस्तक दे दी है। वातावरण की नमी में गिरावट आई है। इसी से तापमान बढ़ रहा है।