Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» भ्रष्टाचार दीमक की तरह, इसलिए बदलें सिस्टम

भ्रष्टाचार दीमक की तरह, इसलिए बदलें सिस्टम

सिटी रिपोर्टर | ग्वालियर भ्रष्टाचार दीमक की तरह है इसलिए सिस्टम में बदलाव लाना होगा। केवल कानून बनाने से काम...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 03:15 AM IST

भ्रष्टाचार दीमक की तरह, इसलिए बदलें सिस्टम
सिटी रिपोर्टर | ग्वालियर

भ्रष्टाचार दीमक की तरह है इसलिए सिस्टम में बदलाव लाना होगा। केवल कानून बनाने से काम नहीं चलेगा इसके लिए कठोर कार्रवाई की जरूरत है। अगर समय रहते सिस्टम में बदलाव नहीं किया गया तो भ्रष्टाचार रूपी दीमक देश को खा जाएगी। यह विचार प्रतिभागियों ने पक्ष में रखे। रविवार को माधव लॉ कॉलेज में चल वैजयंती वाद-विवाद प्रतियोगिता आयोजित की गई। दिवंगत माधव शंकर इंदापुरकर की स्मृति में हुई प्रतियोगिता का विषय राष्ट्र उत्थान के लिए भ्रष्टाचार निवारण हेतु सिस्टम में सुधार ही एकमात्र उपाय रखा गया था। इस मौके पर मुख्य अतिथि प्रदेश के कैबिनेट मंत्री नारायण सिंह कुशवाह थे। अध्यक्षता मप्र अल्प संख्यक आयोग के अध्यक्ष नियाज मोहम्मद ने की। विशेष अतिथि श्रीकृष्ण अन्ना कार्किडे रहे। निर्णायक की भूमिका प्रो. रविकांत अदालतवाले, आलोक शर्मा और उमा भटनागर ने निभाई। इस मौके पर डॉ. नीति पांडे सहित अन्य लोग मौजूद रहे।

25 टीमों ने हिस्सा लिया

वाद-विवाद प्रतियोगिता में ग्वालियर संभाग की 40 टीमों ने हिस्सा लिया। प्रत्येक टीम में 2 सदस्य शामिल रहे। एक ने पक्ष और दूसरे ने विपक्ष में विचार रखे। बेहतर बोलने के आधार पर ही विजेताओं का चयन किया गया।

वाद-विवाद प्रतियोगिता सुबह 11 से शाम 6 बजे तक चली। इसमें एमएलबी कॉलेज की टीम ने चल वैजयंती का खिताब जीता।

प्रतियोगिता के समापन पर विजेताओं को पुरस्कार देते अतिथि।

युवा निष्ठावान और ईमानदार रहें, देश को होगा फायदा

प्रतियोगिता के समापन सत्र में प्रो. उमेश होलानी ने कहा कि माधव शंकर इंदापुरकर आदर्श व्यक्तित्व वाले थे। वहीं अन्य वक्ताओं ने कहा कि भ्रष्टाचार खत्म करने के लिए युवाओं को पहल करनी होगी। जिस तरह युवाओं ने कहा कि हम शादी में दहेज नहीं लेंगे। बेटियों के परिजनों ने कहा कि हम दहेज नहीं देंगे बल्कि बेटियों को शिक्षित करके भेजेंगे। ठीक ऐसी ही सोच आगे रखनी होगी। युवाओं को निष्ठावान और ईमानदारी रखनी होगी।

यह रहे विजेता

चल वैजयंती विजेता टीम- एमएलबी कॉलेज

प्रथम- राधा शर्मा, एमएलबी कॉलेज ग्वालियर द्वितीय- शायना कुरैशी, पीजी कॉलेज दतिया तृतीय- सौम्या चौहान, वीआरजी कॉलेज ग्वालियरसांत्वना- पुष्पराज सिंह चौहान, अभिषेक शर्मा

प्रतियोगिता में विजेता को 7100, दूसरे स्थान पर आने वाले को 5100, तृतीय स्थान पाने वाले को 3100 और सांत्वना पुरस्कार के रूप में 1100-1100 रुपए के पुरस्कार दिए गए।

तीन लोग लाएंगे सुधार मजबूत होगा देश

प्रेरणा स्रोत रहे हैं माधव इंदापुरकर

प्रतियोगिता में मंत्री नारायण सिंह कुशवाह ने कहा कि दिवंगत माधव शंकर इंदापुरकर प्रेरणा स्रोत रहे हैं। युवाओं को उनसे प्रेरणा लेनी चाहिए। शासी निकाय के अध्यक्ष आनंद करारा ने कहा कि वर्तमान में नैतिक मूल्यों की कमी आती जा रही है। इसलिए भ्रष्टाचार बढ़ रहा है, भ्रष्टाचार मिटाना जरूरी हो गया है। अगर ऐसा नहीं हुआ तो देश खत्म हो जाएगा। इसके लिए सभी को मिलकर प्रयास करने होंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×