Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» सत्य और तथ्य के साथ होती है पत्रकारिता: विनोद

सत्य और तथ्य के साथ होती है पत्रकारिता: विनोद

सिटी रिपोर्टर | ग्वालियर वर्तमान में पत्रकारिता के संस्कार बदल गए हैं, दिमाग में कुछ नहीं है और गूगल पर सब कुछ है।...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 03:15 AM IST

सिटी रिपोर्टर | ग्वालियर

वर्तमान में पत्रकारिता के संस्कार बदल गए हैं, दिमाग में कुछ नहीं है और गूगल पर सब कुछ है। आज समझदारी का संकट है। मैं बताना चाहता हूं कि पत्रकारिता सत्य और तथ्य के साथ होती है। ऐसी ही पत्रकारिता आलोक तोमर ने भी की। यह बात वरिष्ठ पत्रकार विनोद अग्निहोत्री ने कही। वे रविवार को राज्य स्वास्थ्य प्रबंधन संस्थान में आयोजित ‘यादों में आलोक’ कार्यक्रम में बोल रहे थे। आईटीएम यूनिवर्सिटी के पत्रकारिता विभाग की ओर से हुए कार्यक्रम का विषय सत्ता की पत्रकारिता और सोच का संकट रखा गया। उन्होंने कहा कि पत्रकारिता किस दिशा में जा रही है यह भी हमें सोचना होगा। इस अवसर पर शहर के वरिष्ठ पत्रकार व अन्य लोग मौजूद रहे। संचालन जयंत तोमर ने किया।

कार्यक्रम में जयशंकर गुप्त ने कहा कि जो दिखे, पत्रकार वही लिखे।

हम तो आईना हैं, जो है वही दिखेगा

कार्यक्रम में प्रेस एसोसिएशन दिल्ली के अध्यक्ष जयशंकर गुप्त ने कहा कि हम (पत्रकारिता) तो आईना हैं जैसा होगा, इसमें वैसा ही दिखाई देगा। आईने को कितना भी तोड़ दोगे तो भी वह सच्चाई दिखाएगा। इस अवसर पर कवि-लेखक गिरधर राठी, यशवंत सिंह और फिल्म निर्देशक शंकर सुहैल ने भी विचार रखे। वरिष्ठ पत्रकार अरविंद मोहन ने कहा कि आज कई प्रकार से पत्रकारों पर दबाव आता है। इन सब चीजों को फेस करना है और अपने मूल काम को हमें छोड़ना नहीं है।

देश को मैकडोनाल्ड का बर्गर बनाया जा रहा है

विषय प्रवर्तन कर रहे वरिष्ठ पत्रकार नवीन कुमार ने कहा कि दिवंगत आलोक तोमर ईमानदार थे, इसलिए अराजक भी थे और उनकी यह अराजकता अच्छी भी लगती थी। उनके लेखन में जो धार थी, शायद कहीं न कहीं चंबल के पानी का भी असर रहा। देश के हालात पर उन्होंने कहा कि आप लोग मैकडोनाल्ड का बर्गर खाते होंगे। दुनिया में कहीं भी चले जाइए उसका साइज, आलू और पाव एक ही होगा। आज देश को मैकडोनाल्ड का बर्गर बनाने की कोशिश की जा रही है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×