• Home
  • Mp
  • Gwalior
  • स्वीडिश, एरोमाथैरेपी और डीप टिशु मसाज के बारे में स्टूडेंट्स ने जाना
--Advertisement--

स्वीडिश, एरोमाथैरेपी और डीप टिशु मसाज के बारे में स्टूडेंट्स ने जाना

न्यूजीलैंड से आईं डॉ. वैशाली थमन का सम्मान किया गया। ग्वालियर | मसाज के जरिए हम शारीरिक समस्याओं का समाधान करने...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 03:35 AM IST
न्यूजीलैंड से आईं डॉ. वैशाली थमन का सम्मान किया गया।

ग्वालियर | मसाज के जरिए हम शारीरिक समस्याओं का समाधान करने में सक्षम हैं, लेकिन मानसिक समस्याओं के लिए मसाज अतिरिक्त सहाय प्रदान करती हैं न कि पूर्णता समाधान। यह बात मुख्य वक्ता के रूप में न्यूजीलैंड से आईं डॉ. वैशाली थमन ने कही। वे बुधवार को एलएनआईपीई में थैरापैटिक और स्पोर्ट्स मसाज पर शुरू हुई वर्कशॉप में बोल रही थीं। उन्होंने मसाज के प्रकार स्वीडिश, एरोमाथैरेपी, शियात्सों, थाई, प्रेग्नेंसी, हॉट स्टोन और डीप टिशु के बारे में भी बताया। इस अवसर पर संस्थान के कुलपति प्रो. दिलीप कुमार डुरेहा, रजिस्ट्रार प्रो. विवेक पांडे के अलावा प्रतिभागी मौजूद रहे। वक्ताओं ने कहा कि कोच या मैनेजर को फिजियोथैरेपी की जानकारी जरूरी है। इसका फायदा खिलाड़ियों को मिलता है।