• Hindi News
  • Mp
  • Gwalior
  • 5 दिन से बिजली व पानी को तरसे, विरोध करने सड़क पर उतरे, पुलिस ने चलाईं लाठी
विज्ञापन

5 दिन से बिजली व पानी को तरसे, विरोध करने सड़क पर उतरे, पुलिस ने चलाईं लाठी

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 01:50 PM IST

Gwalior News - पॉलिटिकल रिपोर्टर | ग्वालियर प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गुढ़ी-गुढ़ा के नाके पर बने फ्लैटों में 110 से अधिक...

5 दिन से बिजली व पानी को तरसे, विरोध करने सड़क पर उतरे, पुलिस ने चलाईं लाठी
  • comment
पॉलिटिकल रिपोर्टर | ग्वालियर

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत गुढ़ी-गुढ़ा के नाके पर बने फ्लैटों में 110 से अधिक परिवारों को 5 दिन से बिना बिजली के अंधेरे में रहना पड़ रहा है। बिना बिजली के पानी की सप्लाई नहीं होने से बुधवार को यह परिवार पीने के पानी तक को तरस गए, तो सड़क पर चक्काजाम करने के लिए उतर आए। गुढ़ी-गुढ़ा का नाका स्थित श्मशान के सामने लोगों ने स्कूल बस व दूसरे वाहनों को रोक दिया और बिजली कनेक्शन जोड़े जाने की मांग करने लगे। कंपू पुलिस थाना प्रभारी महेश शर्मा फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और लोगों को जाम न लगाने की समझाइश दी। लेकिन प्रदर्शनकारी बिजली सप्लाई चालू करने की मांग पर अड़े रहे और कहा कि कनेक्शन जुड़ने के बाद ही चक्काजाम खोला जाएगा। थाना प्रभारी श्री शर्मा ने पुलिस बल को निर्देश दिए कि सभी लोगों को खदेड़ कर जाम खुलवाया जाए। इसके बाद भी महिलाओं ने प्रदर्शन करते हुए बस को रोक लिया, तो खुद श्री शर्मा ने लाठी से महिला-युवतियों को खदेड़ा और पुलिसकर्मियों ने कुछ युवकों व महिलाओं को लाठी और थप्पड़ मारकर भगाया। इसके बाद पुलिस व प्रदर्शनकारियों में काफी बहस हुई। वहां रहने वाले निक्की खान ने श्री शर्मा एवं तहसीलदार भूपेंद्र सिंह कुशवाह को शिकायत की कि पुलिस के डंडे से उसके हाथ में चोट आ गई है।

गुढ़ी-गुढ़ा के नाका पर बने प्रधानमंत्री आवासों में रह रहे लोगों की बिजली 27 जनवरी से कटी, कंपनी ने कहा- 10 लाख हैं बकाया

प्रदर्शन करने वाले बोले- बिजली कंपनी नहीं लगा रही मीटर

प्रदर्शन के दौरान पुलिस से उलझतीं क्षेत्र की महिलाएं। फोटो: भास्कर


प्रदर्शनकारियों को अफसर बिजली कंपनी के अफसरों से बात कराने के लिए कंपू थाने ले गए। वहां फ्लैट में रहने वाले लोगों ने कहा कि हमारे यहां मीटर लगा दिए जाएं और जो बकाया राशि है उसे हर महीने की किश्त में लिया जाए। बिजली कंपनी के अफसरों ने कहा कि अभी बिना पैसे के कनेक्शन नहीं जुड़ेंगे। तब लोगों ने कहा कि हम हर परिवार से 500-500 रुपए इकट्ठे करके जमा कर देते हैं तो अफसरों ने 1-1 हजार रुपए जमा कराने को कहा। इसी पर बात बिगड़ गई और बुधवार को भी कनेक्शन नहीं जुड़ सका।


प्रदर्शन के दौरान निक्की खान, लकी राजपूत, गुड्डो बाई आदि ने अफसरों से कहा, 5 दिन से बिजली नहीं है। इससे पानी नहीं आ रहा। अब ये नौबत आ गई कि बाजार से पानी खरीदना पड़ रहा है या फिर खजांची बाबा की बस्ती से पानी ढो कर लाना पड़ रहा है। जिसमें मजदूरी के पैसे खर्च हो रहे हैं। ऐसे में खाना कहां से खाएं। रिजवान खान, इकबाल, अलीशा कुरैशी आदि ने बताया कि गुरुवार को भी प्रदर्शन किया जाएगा और यदि फिर भी सुनवाई नहीं हुई तो क्रमिक भूख हड़ताल की जाएगी।


बिल्डिंग में रहने वाले मोहम्मद जुनैद कुरैशी, सुरेश सिंह कुशवाह ने तहसीलदार भूपेंद्र सिंह कुशवाह और थाना प्रभारी महेश शर्मा को बताया कि हम लोग यहां 8 महीने से रह रहे हैं और सभी की बिजली कनेक्शन के लिए राशि कई महीनों से जमा है। लेकिन कंपनी के अफसर मीटर नहीं लगा रहे, बल्कि आकलित खपत के बिल भेजे जा रहे हैं। वहीं बिजली कंपनी के डीजीएम मनीष गौतम ने बताया, इन लोगों पर करीब 2 साल का 10 लाख रुपए बकाया है। बिना भुगतान कनेक्शन नहीं जोड़े जा सकते।

X
5 दिन से बिजली व पानी को तरसे, विरोध करने सड़क पर उतरे, पुलिस ने चलाईं लाठी
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन