• Home
  • Mp
  • Gwalior
  • नवजात की मौत के मामले में दस्तावेज जब्त
--Advertisement--

नवजात की मौत के मामले में दस्तावेज जब्त

सीएमएचओ ने टीम गठित कर जल्दी जांच रिपोर्ट प्रस्तुत करने के दिए निर्देश भास्कर संवाददाता | रौन स्थानीय...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 06:15 AM IST
सीएमएचओ ने टीम गठित कर जल्दी जांच रिपोर्ट प्रस्तुत करने के दिए निर्देश

भास्कर संवाददाता | रौन

स्थानीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर 27 फरवरी को जन्म के कुछ देर बाद हुई नवजात शिशु के मौत के मामले की जांच के लिए सीएमएचओ डाॅ. जेपीएस कुशवाह ने दो सदस्यीय टीम गठित कर दी है। टीम द्वारा जांच प्रक्रिया शुरू करते हुए केस सीट एवं अटेंडेंस रजिस्टर जब्त कर लिए हैं। इस मामले में मृतक के परिजन एवं संबंधित डाॅक्टर व स्टाफ सदस्यों बयान लिए जाएंगे।

गौरतलब है 27 फरवरी को प्रसव पीड़ा होने पर रौन निवासी राहुल उर्फ दीपू पुत्र प्रमोद श्रीवास्तव की प|ी भावना श्रीवास्तव को स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया था। दोपहर करीब 12 बजे भर्ती कराए जाने के बाद सांयकाल करीब 5.40 बजे भावना ने शिशु को जन्म दिया था। बकौल दीपू उर्फ राहुल के ताऊ ओमप्रकाश श्रीवास्तव जन्म के कुछ देर बाद नवजात शिशु की तबियत बिगड़ी। इसके बाद डाॅक्टर को तलाशा गया लेकिन बीएमओ डाॅ. िवजय कुमार उटगेरकर व मेडिकल ऑफिसर डाॅ. अरविंद अग्रवाल में कोई भी उपलब्ध नहीं मिला। सूचना मिलने पर सीएमएचओ रात में ही लहार बीएमओ डाॅ. आर विमलेश को भिजवाया। तब पंचनामा बनाया गया। इस मामले की जांच के लिए जिला स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. शिवराम सिंह कुशवाह एवं डाॅ. एसके व्यास की टीम गठित की गई है। बताया गया स्वास्थ्य केंद्र पर केस सीट एवं अटेंडेंस रजिस्टर जब्त कर लिया गया है। अब सभी संबंधितों के कथन की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

रिपोर्ट मिलने पर की जाएगी कार्रवाई