• Home
  • Mp
  • Gwalior
  • चेनपुर से काऊपुरा घाट तक अवैध उत्खनन से खोखला हुआ किनारा
--Advertisement--

चेनपुर से काऊपुरा घाट तक अवैध उत्खनन से खोखला हुआ किनारा

भास्कर संवाददाता | रघुनाथपुर राष्ट्रीय चंबल अभयारण्य के रूप में संरक्षित क्षेत्र में रेत एवं पत्थर का अवैध...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 03:35 AM IST
भास्कर संवाददाता | रघुनाथपुर

राष्ट्रीय चंबल अभयारण्य के रूप में संरक्षित क्षेत्र में रेत एवं पत्थर का अवैध उत्खनन किया जा रहा है। विजयपुर जनपद में चेनपुरा घाट पर चंबल नदी से बड़े पैमाने पर रेत एवं पत्थर निकालने वालों ने नदी किनारा खोखला कर डाला है। घडिय़ाल विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों की तैनाती के बावजूद दिनदहाड़े बेरोकटोक खनन हो रहा है। इस आशय की शिकायत चेनपुरा के ग्रामीणों ने मुरैना जाकर चंबल अभयारण्य के डीएफओ एए अंसारी से की है। शिकायतकर्ताओं का आरोप है कि संबंधित अधिकारियों की मिलीभगत से चंबल नदी से अवैध उत्खनन धड़ल्ले से चल रहा है।

चैनपुरा निवासी संजय सिंह जादौन ने डीएफओ को बताया कि चेनपुरा , अर्रोदरी, रिझेटा, कतन्नीपुरा एवं काऊपुरा के पास चंबल नदी से रेत एवं पत्थर का अवैध उत्खनन एवं परिवहन कार्य ट्रैक्टर-ट्रॉली एवं जेसीबी से किया जा रहा है।

वीरपुर और रघुनाथपुर स्थित घडिय़ाल चौकी के सामने से रेत एवं पत्थर से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली निकलती है। लेकिन जिम्मेदार अधिकारी-कर्मचारी अवैध खनन एवं परिवहन पर कोई एक्षन नहीं लेते हैं। चंबल नदी किनारे जगह जगह हो रहे लंबे चौड़े गड्ढे बड़े पैमाने पर हो रहे अवैध उत्खनन की पोल खोल रहे हैं। डीएफओ एए अंसारी ने खुद आकस्मिक निरीक्षण करके चंबल नदी के प्रतिबंधित क्षेत्र में अवैध उत्खनन करते पाए जाने पर कानूनी कार्रवाई का आश्वासन दिया है। साथ ही जिम्मेदार अमले पर कार्रवाई की बात भी कही है।

रघुनाथपुर के चेनपुरा के पास चंबल नदी किनारे चल रही पत्थर की मनमानी खदान।