Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» Gwalior Fort Jauhar Kund Today Condition

ये गलत बात है: फोर्ट घूमने अाने वाले फिर जौहर कुंड में फेंक रहे कचरा

आज इस जौहर कुंड की हालत बेहद खराब है। यहां आने वाले सैलानी खानपान की सामग्री के रैपर, पॉलीथिन सहित अन्य सामान इसमें फेंक

DainikBhaskar.com | Last Modified - Nov 16, 2017, 01:12 PM IST

ग्वालियर।जिस कुंड में कभी 1400 से ज्यादा औरतें मुस्लिम सैनिकों से अपनी इज्जत बचाने के लिए जौहर कर के जिंदा जल गई थीं, आज वहां कचरा फेंका जा रहा है। यह जौहर कुंड ग्वालियर किले में बना हुआ है। यहां साल 1232 में अफगानिस्तान से आए इल्तुतमिश ने हमला किया था। उस समय ग्वालियर में कच्छप घाट (कछवाहा) राजवंश का शासन था। इस युद्ध में हार की खबर मिलते ही रानियों और सैनिकों की पत्नियों सहित कुल 1400 महिलाओं ने कुंड में आग लगाकर जौहर किया था।

तब से इस कुंड को जौहर कुंड कहा जाने लगा। वहीं 13वीं शताब्दी के बाद 16वीं शताब्दी में भी जौहर किए जाने की घटनाएं हुईं। आज इस जौहर कुंड की हालत बेहद खराब है। यहां आने वाले सैलानी खानपान की सामग्री के रैपर, पॉलिथीन सहित अन्य सामान इसमें फेंक देते हैं। इससे दिन-प्रतिदिन कुंड गंदा होता जा रहा है।

आगे की स्लाइड में देखें चुनिंदा फोटोज...

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Gwalior News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: 1400 aurton ne jahaan kiyaa thaa jauhar, vhaan ab loga fenk rahe hain kudeaa-kchraa
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×