Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» President And Husband Did The Abduction Of The Member Of The District

अध्यक्ष और पति ने किया जनपद सदस्य का अपहरण, पुलिस ने किया केस दर्ज

रिश्तेदारों के साथ गुरुवार को अपहरण का मामला दर्ज कराने के लिए देर रात तक थाने में अड़ी रही।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 30, 2017, 06:59 AM IST

अध्यक्ष और पति ने किया जनपद सदस्य का अपहरण, पुलिस ने किया केस दर्ज

ग्वालियर.जनपद सदस्य रमेश उर्फ बंटी बाथम के अपहरण के बाद उनकी पत्नी गीता बाई बाथम अपने रिश्तेदारों के साथ गुरुवार को अपहरण का मामला दर्ज कराने के लिए देर रात तक थाने में अड़ी रही। उन्होंने टीआई रमेश शाक्य व प्रभारी एसडीओपी उमेश कुमार दीक्षित से शिकायत की। पुलिस ने मनाेनीत अध्यक्ष के पति मोती सिंह से मोबाइल फोन पर बात कर दो घंटे का अल्टीमेटम दिया लेकिन वे थाने नहीं आए। इसके बाद पुलिस ने मनाेनीत अध्यक्ष अनीता रावत, पति मोती सिंह एवं तीन-चार अन्य लोगों पर अपहरण का मामला दर्ज कर लिया।

- बता दें कि मनोनीत जनपद अध्यक्ष अनीता रावत व उनके पति मोती सिंह तीन-चार लोगों के साथ 24 नवंबर को जनपद सदस्य रमेश उर्फ बंटी बाथम को घर से अपने साथ ले गए थे। रमेश की पत्नी गीता बाई ने पुलिस से शिकायत की थी।

- गीता बाई का कहना है कि एक दिन मोबाइल पर बात हुई थी। इसमें उसके पति रमेश रो-रोकर कह रहे थे मुझे छुड़ा लो। शिकायत के बाद भितरवार पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज कर ली लेकिन उनका पता लगाने का प्रयास नहीं किया।

- बुधवार को वह अपहरण का मामला दर्ज कराने के लिए रिश्तेदार व ग्रामीणों के साथ बुधवार को थाने पहुंच गई। शाम 4 से रात 9.30 बजे तक वह थाने में अध्यक्ष वच उसके पति के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज करने के लिए अड़ी रही। इसके बाद पुलिस ने अध्यक्ष अनीता रावत, पति मोती सिंह एवं तीन-चार अन्य लोगों पर अपहरण का मामला दर्ज कर लिया है।

एसडीओपी ने अध्यक्ष पति से मोेबाइल पर बात कर दो घंटे में आने काे कहा लेकिन वे नहीं आए

- पहले टीआई रमेश शाक्य अपहरण का मामला दर्ज करने तैयार नहीं थे। गीता ने इसकी शिकायत प्रभारी एसडीओपी उमेश कुमार दीक्षित से भी की। एसडीओपी ने अध्यक्ष पति मोती सिंह से मोबाइल पर बात कर दो घंटे में थाने में आने का अल्टीमेटम दिया था।

- अध्यक्ष पति ने बताया कि वह ग्वालियर में है, और आ रहा है। लेकिन अध्यक्ष पति मोती सिंह रमेश उर्फ बंटी को लेकर थाने नहीं आए। बाद में उनका मोबाइल भी नहीं लगा। वहीं थाने के बाहर पत्नी अपने बेटे व रिश्तेदारों के साथ थाने के सामने बैठी रही। करीब 50-60 लोग आंदोलन की तैयारी में थे। जिसके बाद पुलिस ने अध्यक्ष अनीता रावत, पति मोती सिंह एवं तीन-चार अन्य लोगों पर अपहरण का मामला दर्ज कर लिया।

- चुनाव जीतने के लिए किया अपहरण: बताया जा रहा है कि रमेश का अपहरण अध्यक्ष की कुर्सी की गठजोड़ में हुआ है। जनपद पंचायत अध्यक्ष पद के लिए गुरुवार को जनपद सभागार में उपचुनाव होना है। अध्यक्ष पद के लिए दो दावेदार सामने आ रहे हैं, एक जनपद सदस्य एकता तिवारी, दूसरी मनोनीत अध्यक्ष अनीता रावत। दोनों ही जनपद सदस्यों को अपने पाले में खींचने का प्रयास कर रही हैं। इसी गठजोड़ को लेकर अनीता रावत व पति मोती रावत ने रमेश को उठा लिया था, ताकि वह वोट न डाले, यदि वोट डाले तो उनके पक्ष में डाले।


आज दोपहर 2 बजे मतदान, शाम को रिजल्ट

-जनपद पंचायत भितरवार अध्यक्ष के उपचुनाव को लेकर बुधवार को अधिकारियों ने जनपद सभागार का निरीक्षण किया। इस दौरान सीसीटीवी कैमरे व सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम के निर्देश दिए। गुरुवार को 12 बजे से चुनाव प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। दोपहर 12.30 बजे तक उपस्थिति दर्ज की जाएगी। दोपहर 1 बजे तक समीक्षा होगी। इसके बाद 2 बजे तक अध्यक्ष पद के लिए नाम प्रस्ताव किए जाएंगे। दोपहर 2.30 बजे तक मतदान होगा, जिसके बाद काउंटिंग व रिजल्ट घोषित किया जाएगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Gwalior News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: adhyks aur pti ne kiyaa jnpd sDasy ka apharn, police ne kiyaa kes drj
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×