Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» The Image Of The Corrupt Excise Officer Is Poor

भ्रष्ट आबकारी अफसर कर रहे छवि खराब,विभाग ने भेजा प्रस्ताव, कार्रवाई नहीं

इसके बाद भी उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो पाई है।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 15, 2017, 06:54 AM IST

भ्रष्ट आबकारी अफसर कर रहे छवि खराब,विभाग ने भेजा प्रस्ताव, कार्रवाई नहीं
ग्वालियर.आबकारी विभाग के सहायक आयुक्त सत्यनारायण दुबे के भ्रष्टाचार की शिकायतों से परेशान होकर उन्हें वहां से हटाने के लिए जबलपुर कलेक्टर महेश चंद्र चौधरी ने प्रमुख सचिव मनोज श्रीवास्तव व आयुक्त अरुण कोचर को पत्र लिखा है। कलेक्टर के पत्र पर आबकारी विभाग के ग्वालियर मुख्यालय से दुबे को हटाने का प्रस्ताव भी शासन को भेज दिया गया। इसके बाद भी उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो पाई है।
यह है जबलपुर कलेक्टर के पत्र के कुछ अंश
- आबकारी विभाग के सहायक आयुक्त सत्यनाराण दुबे व सहायक जिला आबकारी अधिकारी इंद्रेश तिवारी की जोड़ी के भ्रष्टाचार की शिकायत कलेक्टर महेश चंद्र चौधरी ने शासन को की है। इंद्रेश तिवारी के अनुचित सहयोग से इनके द्वारा अनुपयुक्त तरीके अनुचित लाभ लिया जाता है।
- इन दोनों अधिकारियों की पदस्थापना जबलपुर में जब से हुई है तब से आबकारी विभाग में धनराशि लेन-देन की अनेक शिकायतें किसी न किसी माध्यम से प्राप्त हो रही हैं। जन प्रतिनिधियों के माध्यम से भी इस आशय की सूचना प्राप्त हो रही है, जिससे विभाग की छवि खराब हो रही है। ऐसी दशा में यह उचित होगा कि दुबे को अन्यत्र पदस्थ किया जाए।
शासन को भेजा है प्रस्ताव
- कलेक्टर की ओर से मिली शिकायत के बाद विभाग ने प्रस्ताव शासन को भेज दिया है।
अरुण कोचर, आयुक्त आबकारी
शिकायतें मिलीं तो हटाने को कहा
- आबकारी अधिकारी के खिलाफ गंभीर शिकायतें मिली हैं, इसी आधार पर उन्हें हटाने के लिए पत्र लिखा गया।
महेश चंद्र चौधरी, कलेक्टर जबलपुर
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×