Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» The Worlds Only Tantric Statue Will Be Filled

शनिश्चरी अमावस्या- विश्व की एकमात्र तांत्रिक प्रतिमा स्थल शनिश्चरा पर भरेगा मेला

महाराजा विक्रमादित्य द्वारा स्थापित यह शनिदेव की प्रतिमा के पहनावे से भी स्पष्ट है कि यह तांत्रिक प्रतिमा है।

Bhaskar News | Last Modified - Nov 18, 2017, 07:00 AM IST

  • शनिश्चरी अमावस्या- विश्व की एकमात्र तांत्रिक प्रतिमा स्थल शनिश्चरा पर भरेगा मेला

    ग्वालियर.शनिश्चरी अमावस्या पर ऐंती स्थित विश्व की एकमात्र तांत्रिक शनि देव की प्रतिमा की पूजा के लिए देशभर से श्रद्धालुओं का जुटना शुरू हो गया है। यहां शनिवार को मेला भरेगा। मंदिर प्रबंधन का अनुमान है कि यहां लगभग 2.50 लाख श्रद्धालु दर्शन करने आएंगे। उनके लिए 20 बड़े लंगर लगाए गए हैं। त्यागी बाबा आैर मंदिर के पुजारी बृजभूषण दास का कहना है कि छठवीं शताब्दी में महाराजा विक्रमादित्य द्वारा स्थापित यह शनिदेव की प्रतिमा के पहनावे से भी स्पष्ट है कि यह तांत्रिक प्रतिमा है।

    कर्मचारी समेटेंगे पुराने जूते-चप्पल और कपड़े
    - प्रशासन ने मंदिर के आस-पास जूते-चप्पल, पुराने कपड़े और मुंडन करवाने वालों के बाल समेटने के लिए 150 कर्मचारियों की तैनाती की है।

    स्पेशल ट्रेन

    - ग्वालियर से भिंड के बीच शनिवार को मेला स्पेशल ट्रेन चलेगी। ट्रेन दोपहर 1.35 बजे ग्वालियर से रवाना होकर दोपहर 2.04 बजे शनिचरा पहुंचेगी। शाम 8.04 बजे शनिचरा से ग्वालियर आएगी।

    नाई करेंगे मुंडन, प्रशासन देगा ब्लेड, नाई जोन बनाए
    - प्रशासन ने मंदिर से कुछ दूरी पर दो नाई जोन बनाए हैं। यहां 100 से अधिक नाई बाल काटने के लिए मौजूद रहेंगे। इन्हें ब्लेड प्रशासन देगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×