• Hindi News
  • Mp
  • Gwalior
  • Gwalior News after 34 years laxmiganj vegetable market will expand 200 new shops will be available
विज्ञापन

34 साल बाद लक्ष्मीगंज सब्जी मंडी का विस्तार, 200 नई दुकानें लगेंगी, जनवरी से ऑनलाइन बनेंगे गेट पास / 34 साल बाद लक्ष्मीगंज सब्जी मंडी का विस्तार, 200 नई दुकानें लगेंगी, जनवरी से ऑनलाइन बनेंगे गेट पास

Bhaskar News Network

Dec 09, 2018, 03:40 AM IST

Gwalior News - 34 साल पहले 1984 में तैयार हुई लश्कर में लक्ष्मीगंज स्थित बड़ी सब्जी मंडी के विस्तार का काम आखिरी चरण में है। 8 बीघा में...

Gwalior News - after 34 years laxmiganj vegetable market will expand 200 new shops will be available
  • comment
34 साल पहले 1984 में तैयार हुई लश्कर में लक्ष्मीगंज स्थित बड़ी सब्जी मंडी के विस्तार का काम आखिरी चरण में है। 8 बीघा में संचालित मंडी जनवरी के अंत तक बढ़कर 30 बीघा क्षेत्र में फैल जाएगी। वर्तमान में यहां सिर्फ 30 पक्की दुकानें हैं, जो बढ़कर अब 230 हो जाएंगी। इस विस्तार से न सिर्फ मंडी में अतिक्रमण, ट्रैफिक जाम, गंदगी से कारोबारियों व आम खरीदारों को निजात मिलेगी बल्कि मंडी प्रशासन को अतिरिक्त आय भी होगी। करीब 10 करोड़ रुपए खर्च कर 22 बीघा क्षेत्र में 200 पक्की दुकानें बनाईं गईं हैं। इनमें से 130 दुकानों का आवंटन लॉटरी के जरिए किया चुका है। शेष 70 दुकानों का आवंटन मंडी बोर्ड में लगीं आपत्ति के निराकरण के बाद जनवरी तक होने की उम्मीद है। मंडी प्रशासन मालवाहक वाहनों के लिए लागू गेटपास व्यवस्था को 1 जनवरी से ऑनलाइन करने जा रहा है। इससे गेटपास के नाम पर होने वाली अवैध वसूली और मंडी की आय में गिरावट भी नहीं होगी।

अभी ये हैं हालात: कारोबारियों के साथ सड़क पर फड़ लगाने वालों के कारण मंडी में व्यस्ततम समय (अल सुबह 4 बजे से सुबह 9 बजे तक ) में पैदल चलने के लिए भी जगह नहीं मिल पाती है। दिनभर मालवाहक वाहनों के आने-जाने की वजह से मुख्य मार्ग पर पूरे दिन ट्रैफिक जाम की स्थिति रहती है।

1984 में बनी लक्ष्मीगंज की इस सब्जी मंडी का आकार जनवरी में हो जाएगा तीन गुना से ज्यादा

एक जनवरी से ऑनलाइन गेटपास से निकलेंगे वाहन, आम लोगों को नहीं लेना होगा

स्थानीय कारोबारी जब अपने मालवाहक वाहनों से सब्जी को मप्र की किसी दूसरी मंडी में भिजवाते हैं, तो उन्हें डेढ़ प्रतिशत मंडी टैक्स चुकाना होता है। इसके बाद वर्तमान में उन्हें हस्तलिखित अनुज्ञा प्रमाण पत्र यानी गेट पास जारी होता है। यह गेट पास इस बात का प्रमाण होता है कि संबंधित कारोबारी ने माल को भेजने से पहले मंडी टैक्स की अदायगी की है। लेकिन 1 जनवरी से यह गेटपास ऑनलाइन जारी होंगे, जिसके लिए कारोबारियों को मंडी बोर्ड की वेबसाइट पर आवेदन करना होगा। ऑनलाइन गेट पास जारी होने से मंडी टैक्स चुकाने में की जाने वाली गड़बड़ रुकेगी। शासन को राजस्व मिलेगा और मंडी में बिना वजह गाड़ी रोकने के कारण लगने वाले जाम से भी मुक्ति मिलेगी। आम लोगों जैसे घर, किसी कार्यक्रम या शादी समारोह आदि के लिए सब्जी खरीदने मंडी आने वाले लोगों को इस गेटपास की जरूरत नहीं होगी।

यह सुविधाएं मिलेंगी






लक्ष्मीगंज स्थित बड़ी सब्जी मंडी, इसमें नई मंडी भी दिखाई दे रही है। दूसरे फोटो में 22 बीघा पर नवनिर्मित मंडी परिसर।

किसे, कैसे मिलेगी राहत




200 दुकानों में से 130 का आवंटन हुआ


X
Gwalior News - after 34 years laxmiganj vegetable market will expand 200 new shops will be available
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543
विज्ञापन