--Advertisement--

आयकर अफसर पर हमला मामला / अभिनेता अजय देवगन का ट्वीट- विक्रम की टीम ने दिया बहादुरी का परिचय, आशा है उन्हें न्याय मिले...



अजय देवगन। अजय देवगन।
Ajay Devgan tweeted on attack on income tax officer Vikram Pagaria's team
विक्रम पगारिया विक्रम पगारिया
अारोपी पिता-पुत्र। अारोपी पिता-पुत्र।
X
अजय देवगन।अजय देवगन।
Ajay Devgan tweeted on attack on income tax officer Vikram Pagaria's team
विक्रम पगारियाविक्रम पगारिया
अारोपी पिता-पुत्र।अारोपी पिता-पुत्र।

  • 10 अक्टूबर को आयकर टीम पर हुआ था हमला

Dainik Bhaskar

Oct 14, 2018, 03:57 AM IST

मुरैना.  मुरैना में आयकर विभाग की इन्वेस्टीगेशन टीम पर हुए हमले के मामले में फिल्म अभिनेता अजय देवगन ने शनिवार को एक ट्वीट कर आयकर टीम की सराहना की। उन्होंने लिखा कि आयकर अफसर विक्रम पगारिया ने बहादुरी का परिचय दिया। उन पर निर्दयता पूर्वक हमला किया गया था।

 

मैं आशा करता हूं कि इन्हें न्याय मिले और ऐसा मिले कि एक उदाहरण प्रस्तुत हो। मालूम हो कि अभिनेता अजय देवगन ने रेड फिल्म में आयकर अधिकारी का रोल निभाया था। इसमें देवगन ने एक सांसद के यहां छापा मारा तो उनके समर्थकों ने उन पर हमला कर दिया था। 
 

...इधर, पिता-पुत्र की जमानत अर्जी सेशन कोर्ट से खारिज : आयकर इनवेस्टीगेशन टीम से मारपीट के मामले में प्रथम अपर सत्र न्यायाधीश सतीशचंद्र शर्मा की अदालत ने शनिवार को सूरजभान ऑइल मिल के मालिक गोविंद बंसल ओर उसके बेटे विष्णु बंसल की जमानत अर्जी को खारिज कर दिया। इसी अपराध के शेष दो अन्य आरोपियों की जमानत अर्जी पर सोमवार को सुनवाई होगी। जिला जेल में बंद तेल कारोबारी गोविंद बंसल व उनके बेटे विष्णु बंसल की ओर से उनके अभिभाषक ने शनिवार को अपने पक्षकारों की जमानत का आवेदन अपर सत्र न्यायाधीश सतीशचंद्र शर्मा की अदालत में पेश किया था। 

 

जमानत आवेदन पर सुनवाई के दौरान आयकर उपायुक्त विक्रम पगारिया ने अदालत के समक्ष उपस्थित होकर आपत्ति पेश की कि रेड के दौरान यदि उनकी पिटाई होती रहेगी तो वह विभाग के आदेश पर कार्रवाई कैसे कर सकेंगे। आयकर विभाग की तरफ से अधिवक्ता आनंद प्रकाश गुप्ता ने अदालत के समक्ष आपत्ति पेश कि 10 अक्टूबर को आयकर विभाग की इनवेस्टीगेशन टीम ने तेल कारोबारी के निवास पर 50 लाख रुपए कीमत के गहने व नकद तीन लाख जब्त करने की कार्रवाई की तो आरोपी गोविंद बंसल ने आयकर टीम के काम में व्यवधान उत्पन्न किया। 


आरोपी गोविंद बंसल ने आयकर उपायुक्त पगारिया से मारपीट की और उनकी शर्ट फाड़ दी थी। आरोपी विष्णु बंसल ने महिला आरक्षक से धक्का-मुक्की की और उसकी मारपीट कर दी। वकील ने यह भी दलील दी कि अभी इस प्रकरण के दो आरोपी सूरजभान व उनका बेटा फरार हैं। अधिवक्ता आनंद प्रकाश गुप्ता ने कहा कि सूरजभान ऑइल मिल के मालिकों ने नोटबंदी के दौरान बड़ी रकम का हेरफेर किया है इसलिए आरोपियों को जमानत दिया जाना उचित नहीं होगा। जमानत आवेदन पर दाेनों पक्षों को सुनने के बाद प्रथम अपर सत्र न्यायाधीश सतीशचंद्र शर्मा ने टिप्पणी की कि अभी मामले में अनुसंधान चल रहा है इसलिए उनका जमानत आवेदन निरस्त किया जाता है।

 

इधर, इंदौर की सीए एसोसिएशन ने मारपीट के मामले में निंदा प्रस्ताव पास किया : आयकर विभाग के डिप्टी कमिश्नर विक्रम पगारिया के साथ एक छापे के दौरान मारपीट के मामले में अब आयकर विभाग के साथ सीए एसोसिएशन इंदौर भी आ गया है। सीए एसोसिएशन ने शनिवार को इस मामले में निंदा प्रस्ताव पास कर मांग की है कि आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होना चाहिए, जिससे भविष्य में कोई इस तरह की घटना को दोहरा नहीं सके।

 

सीए एसोसिएशन के चेयरमैन अभय शर्मा ने बताया कि शासकीय सेवा के दौरान किसी अधिकारी के साथ इस तरह का व्यवहार होना शर्मनाक और दु:खद है। इंंदौर चेप्टर के सभी सीए आयकर विभाग के साथ हंै और इस निंदा प्रस्ताव की कॉपी हमने आईआरएस एसोसिएशन के अध्यक्ष आरके पालीवाल और डायरेक्टर इंटेलीजेंस को भी भेजी है।  

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..