--Advertisement--

नेतागिरी / दुकान के बाहर से 'भाजपा उपाध्यक्ष' लिखी बाइक उठाई तो सूबेदार से नेता बोले- ये लो चाबी तुम अभी छोड़ोगे बाइक



कोतवाली में पुलिस से बहस करते व्यापारी और भाजपा नेता। कोतवाली में पुलिस से बहस करते व्यापारी और भाजपा नेता।
X
कोतवाली में पुलिस से बहस करते व्यापारी और भाजपा नेता।कोतवाली में पुलिस से बहस करते व्यापारी और भाजपा नेता।

Dainik Bhaskar

Oct 12, 2018, 05:03 PM IST

श्योपुर। अस्थायी अतिक्रमण हटाने के लिए बाजार में पहुंची यातायात पुलिस ने भाजपा उपाध्यक्ष लिखी बाइक को उठा लिया। सूबेदार और भाजपा नेता व व्यापारी के बीच विवाद हो गया। इस दौरान जब्त बाइक की चाबी सूबेदार को देते हुए भाजपा नेता बोले- कि ये लो चाबी तुब अभी हमारी बाइक छोड़ोगे। वहीं सूबेदार ने भी कहा कि अब तुम भी लगा लो जोर। दोनों के बीच काफी देर तक बाजार में बहस भी हुई। वहीं इसके बाद देर शाम को भाजपा नेता और व्यापािरयों ने थाने पर पहुंचकर हंगामा कर दिया। करीब एक घंटे तक चला हंगामा चालान काटने के बाद बाइक मिलने पर शांत हुआ। 

 

यातायात पुलिस मैन बाजार में एक सर्राफा दुकान पर पहुंची तो दुकान के थड़े हटाने की कार्रवाई के दौरान पुलिस को मौके पर भाजपा उपाध्यक्ष लिखी हुई बाइक भी मिली। पुलिस ने व्यापारी गजानंद सोनी से जुर्माने की बात कहीं। इस दौरान पास ही सर्राफा की दुकान चलाने वाले उनके भाई भी मौके पर आ गए, जहां उनके बीच में भी पुलिस से जमकर बहस हुई। इससे व्यापारी का बेटा भड़क गया और चाबी सूबेदार अनिरुद्ध मीणा के हाथ में दे दी। साथ ही यह तक कह दिया कि तुम अभी बाइक को छोड़ेंगे। इस पर सूबेदार ने भी उन्हें जवाब देते हुए कहा कि तुम भी लगा लो जोर। 

 
व्यापारियों ने किया हंगामा: यातायात पुलिस की कार्रवाई से नाराज दुकानदार कोतवाली पर पहुंच गए। जहां पुलिस से जमकर बहस हुई। कोतवाली पर हुए हंगामे को लेकर सूचना एसपी डॉ. शिवदयाल सिंह को दी गई। एसपी ने मौके पर एसडीओपी गुरुदत्त शर्मा को भेजा। एसडीओपी व दुकानदारों के बीच चर्चा हुई और दुकानदार व भाजपा नेता नकुल सोनी की बाइक चालान के बाद वापस की गई। इस दौरान दुकानदारों ने पुलिस पर बदतमीजी करने के आरोप लगाए। 

दुकानदार व भाजपा नेता द्वारा बदतमीजी की गई, चाबी हाथ में देकर कहा कि अभी छोड़ोगे। नेताओं की धमकी देने लगे। बाइक पर उपाध्यक्ष भाजपा लिखा हुआ था। निर्वाचन आयोग के साफ निर्देश हैं ऐसे वाहनों पर कार्रवाई करने। दुकानदार अपनी दुकान का थड़ा भी नहीं हटा रहा था, जिसे हमने हटाया तो बहस करने लगे। मैंने किसी से भी बदतमीजी नहीं की, सिर्फ अपनी ड्यूटी की।

अनिरुद्ध मीणा, सूबेदार, यातायात थाना श्योपुर

 

--Advertisement--
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..