Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» Atal Behari Wajpayee Completes Llb With His Father

तानसेन समारोहः स्वीडन के योहानेस के गिटार से सामने रखी वेस्टर्न म्यूजिक की जुगलबंदी

तानसेन समारोहः स्वीडन के योहानेस के गिटार से सामने रखी वेस्टर्न म्यूजिक की जुगलबंदी

Sameer Garg | Last Modified - Dec 23, 2017, 01:27 PM IST

ग्वालियर. स्कूली शिक्षा और BA की पढ़ाई ग्वालियर से करने के बाद पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने DAV कॉलेज कानपुर से MA (राजनीति शास्त्र) और लॉ की पढ़ाई की थी। उन्होंने जब लॉ में एडमिशन लिया तभी पिता कृष्णबिहारी वाजपेयी रिटायर हुए और अचानक कानपुर पहुंचे। उन्होंने उसी कॉलेज में लॉ में एडमिशन ले लिया। अटल ने पिता से वजह पूछी तो बोले वकालत करना है और अब देखते हैं कौन फर्स्ट आएगा। अटल जी ने पिता संग पूरी की वकालत की पढ़ाई.....

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का 25 दिसंबर को जन्मदिन है। इस मौके पर dainikbhaskar.com पेश कर रहा है उनसे जुड़े कुछ अनछुए पहलू....


- पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के पिता कृष्ण बिहारी वाजपेयी संस्कृत के बड़े विद्वान थे। और मुरैना गांव के सरकारी स्कूल में हेडमास्टर थे। इसके बाद अटलजी ने गोरखी स्कूल से हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की और BA के लिए तत्कालीन विक्टोरिया (अब महारानी लक्ष्मीबाई) कॉलेज में एडमिशन लिया।
- BA करने के बाद MA के लिए कानपुर के DAV कॉलेज में एडमिशन लिया। MA पूरी हुई तो अटल जी ने वहीं LL.B में एडमिशन ले लिया।
- उन्हीं दिनों में अटल जी के पिता सरकारी नौकरी से रिटायर हुए और सीधे DAV कॉलेज कानपुर जाकर LL.B में एडमिशन ले लिया।
- इसके बाद वह बेटे के आवास पर पहुंचे, अटलजी की निगाहों में सवाल देख बोले- मैंने DAV कॉलेज में एडमिशन ले लिया है और अब देखते हैं कौन फर्स्ट आएगा।
- संयोग से पिता-पुत्र दोनों को एक ही सेक्शन में रख दिया गया। पढ़ाई के दौरान अक्सर अजीबोगरीब स्थिति बनने लगी।
- पिता कक्षा में नहीं होते तो लोग अटल से उनके बारे में पूछते। अटल नहीं होते तो पिता से ऐसे ही सवाल होते। आखिरकार अटल जी ने एप्लिकेशन देकर अपना सेक्शन अलग करा लिया। LL.B पूरी हुई तो पिता के नंबर अटल जी से थोड़े ज्यादा ही आए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Gwalior News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: ek hi class mein pdhete the atlji aur unke pitaa, bete se lagayi thi ye shrt
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×