--Advertisement--

बहन के हत्यारों को पकड़ने के लिए धरने पर बैठा भाई, फोर्ट तलहटी में मिली थी डेड बॉडी

बहन के हत्यारों को पकड़ने के लिए धरने पर बैठा भाई, फोर्ट तलहटी में मिली थी डेड बॉडी

Dainik Bhaskar

Jan 12, 2018, 11:44 AM IST
मनीष ने डेड बॉडी मिलने पर ही बत मनीष ने डेड बॉडी मिलने पर ही बत

ग्वालियर. फोर्ट से कूदकर सुसाइड करने वाली लड़की मोनिका शिवहरे के मामले में उसका भाई मनीष गुरुवार की रात को थाने के सामने धरने पर बैठ गया। मनीष का कहना है कि पुलिस ने उस युवक को आरोपी नहीं बनाया, जिसके कारण बहन ने सुसाइड किया था। बाद में पुलिस ने कार्रवाई का आश्वासन देकर मनीष को धरने से उठाया। यह है मामला...

-पिछले साल 11 नवंबर को मोनिका शिवहरे नाम की लड़की की डेड बॉडी फोर्ट की तलहटी में मिली थी। उस समय यह बात सामने आई थी कि मां ने ब्वॉय फ्रेंड से मिलने को रोका तो मोनिका ने फोर्ट से कूदकर सुसाइड कर लिया।

-शुरुआत से मोनिका का भाई मनीष इसे मर्डर बताता रहा। मनीष के मुताबिक बहन को फोर्ट पर बुलाकर उसे धक्का दिया गया, जिससे उसकी मौत हो गई, लेकिन पुलिस सुसाइड बता रही है।

भाई ने पुलिस को दिए सबूत
-मनीष ने फोर्ट जाने के रास्ते में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज तलाशे। उसे जो युवक बहन के पीछे फोर्ट तक जाते दिखाई दिए थे, वे एक फुटेज में वापस लौटते हुए भी दिखाई दिए, लेकिन बहन नहीं लौटी।


सुबूत के बाद पुलिस ने मानी संदिग्ध मौत
-यही सुबूत लेकर मनीष ने टीआई को दिए, लेकिन टीआई मानने को तैयार नहीं हुआ। अंत में मनीष एसपी डॉ.आशीष कुमार से मिले और पूरे सबूत दिखाए। इसके बाद पुलिस ने मोनिका की मौत को संदिग्ध मानते हुए जांच शुरू करने की बात कही है।
-मनीष ने बताया कि उसने लड़कों के स्कूटर का नंबर भी पुलिस को दिया है। यही स्कूटर उस कोचिंग के बाहर भी खड़ा मिला है, जहां उसकी बहन मोनिका भी जाती थी।

पुलिस ने की अधूरी जांच
- मनीष ने उन लड़कों के नाम भी पुलिस को दिए हैं। इसके बाद पुलिस ने मोनिका के पड़ोस में रहने वाले एक लड़के शिवम के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया। मनीष इससे संतुष्ट नहीं हुआ और उसने अंकुर नाम के दूसरे युवक का नाम भी पुलिस को बताया।

धरने पर बैठा मनीष
-पुलिस ने इसे माना नहीं। इससे नाराज होकर मनीष गुरुवार की रात को थाने के सामने धरना देकर बैठ गया। पुलिस ने उसे हटाने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं हटा। अंत में पुलिस ने फिर से जांच का आश्वासन दिया, तब जाकर वह धरने से हटा।

X
मनीष ने डेड बॉडी मिलने पर ही बतमनीष ने डेड बॉडी मिलने पर ही बत
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..