ग्वालियर

  • Home
  • Mp
  • Gwalior
  • criminal entered police officer house & demolished & beaten brother
--Advertisement--

शराब पीने से रोका तो ्रस्ढ्ढ के घर में घुसकर तोड़फोड़, दिव्यांग भाई को पीटा

शराब पीने से रोका तो ्रस्ढ्ढ के घर में घुसकर तोड़फोड़, दिव्यांग भाई को पीटा

Danik Bhaskar

Jan 13, 2018, 06:09 PM IST
एएसआई की पत्नी के साथ बदमाशों एएसआई की पत्नी के साथ बदमाशों

ग्वालियर. पुलिस ASI के भाई ने कुछ लोगों को घर के बाहर शराब पीने से रोका तो युवकों ने घर में घुसकर जमकर तोड़फोड़ कर दी। कई वाहनों को तोड़ दिया। इसके बाद महिलाओं के साथ ASI के दिव्यांग भाई को भी लाठियों से पीटा। जब मोहल्ले के लोग आए तो उपद्रवी लोग भाग गए। अब पुलिस उनकी तलाश कर रही है। यह है मामला........


-एसएएफ की 13 बटालियन में ASI शशि भार्गव दो भाइयों के साथ इंदिरा कॉलोनी में रहते हैं। शनिवार की सुबह वह ऑफिस चले गए थे। इनके दूसरे भाई ज्ञानेंद्र कंट्रोल संचालित करते हैं वह भी दुकान पर चले गए थे।
- घर में दोनों भाईयों की पत्नियां तथा दिव्यांग भाई राकेश भार्गव रह गए थे। सुबह जब यह लोग घर में थे तब कुछ युवक घर के दरवाजे पर बैठकर शराब पी रहे थे। शशि के बेटे ने उन्हें शराब पीने से रोका और घर से दरवाजे से जाने के लिए कह दिया।

युवकों ने घर में आकर की तोड़फोड़
-उस समय तो यह युवक चले गए लेकिन इसके कुछ देर बाद यह अपने कुछ और साथियों को लेकर आए, इनके हाथ में डंडे और हॉकियां थीं। इन्होंने घर के बाहर रखी एक्टिवा, अंदर रखी बाइकों को पटककर हॉकियों से तोड़ा।
-घर के बाहर रखे मीटर भी इन्होंने तोड़े बिना नहीं छोड़े। इन्हें रोकने के लिए शोर मचा रहे दिव्यांग राकेश भार्गव को भी इन्होंने दरवाजे पर पटककर हाथ और लातों से पीटा। राकेश को बचाने के लिए आई ASI शशि की पत्नी अंजलि और ज्ञानेंद्र की पत्नी ममता के साथ भी इन लोगों ने हाथापाई कर दी।

आधा घंटा मचाया उपद्रव
-यह लोग घर की दूसरी मंजिल पर भी जाना चाहते थे लेकिन महिलाओं के विरोध लोगों के इकट्ठे हो जाने की वजह से यह ऊपर नहीं जा पाए और इसके बाद भाग निकले।
-अंजली ने बताया कि करीब आधे घंटे तक हमलावर तोड़फोड़ करते रहे। भाई साहब चल-फिर नहीं पाते। मैं बचाने गई तो मेरी ही पिटाई कर दी। गर्दन में चोट आई है।
-हमले की सूचना पाकर ASI भार्गव घर पहुंचे और फिर पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस अब हमलावरों की तलाश में लगी है। इसमें कुछ संदेहियों के नाम भी पुलिस को बताए हैं।

Click to listen..