--Advertisement--

पहले कार में टक्कर मारी, पुलिस पहुंची तो शुरू कर दी फायरिंग और ले भागे चंबल के रेत से भरा ट्रैक्टर-ट्रॉली

पहले कार में टक्कर मारी, पुलिस पहुंची तो शुरू कर दी फायरिंग और ले भागे चंबल के रेत से भरा ट्रैक्टर-ट्रॉली

Danik Bhaskar | Dec 16, 2017, 05:27 PM IST
इस ट्रैक्टर ने टक्कर मारी और इ इस ट्रैक्टर ने टक्कर मारी और इ

ग्वालियर. चंबल नदी के पास नेशनल हाईवे पर एक ट्रैक्टर से कार टकरा गई। एक्सीडेंट की खबर सुनकर पुलिस पहुंची तो रेत भरकर लाए ट्रैक्टर वालों ने सोचा कि उन्हें पकड़ने पुलिस आई है और उन्होंने फायरिंग शुरू कर दी। 

पुलिस पर फायरिंग करने के बाद माफिया चंबल के रेत से भरा ट्रैक्टर-ट्रॉली लेकर भाग जाने में सफल हो गए। यह है मामला.......

 

 

-यह मामला शुक्रवार की रात का है। अवैध रेत का कारोबार करने वालों ने पुलिस पर फायरिंग उस समय की, जब पुलिस नेशनल हाईवे पर सड़क दुर्घटना में घायल युवक को लेने पहुंची थी।

-पूर्व नगरपालिका उपाध्यक्ष रिंकू मावई के भाई बंटी शुक्रवार की रात नेशनल हाईवे से गुजर रहे थे। सिकरोदा नहर की पुलिया के सामने से गुजरते समय चंबल के रेत से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली ने उनकी कार में टक्कर मार दी।

इसकी सूचना रिंकू मावई को लगी तो उन्होंने पुलिस को बताया कि सिकरोदा पर एक्सीडेंट में उनके भाई घायल हुए हैं। सूचना मिलने के बाद सिविल लाइन पुलिस के एसआई अशोक सक्सैना, एएसआई रामवीर कुशवाह व ड्राइवर मौके पर पहुंचे।

 

रेत माफिया ने पुलिस पर फायरिंग की

- घटना में रेत से भरा ट्रैक्टर-ट्रॉली भी पलट गया था। ट्रॉली को सीधा कर रहे माफियाओं की नजर पुलिस पर पडी तो उन्होंने समझा कि पुलिस उन्हें पकड़ने आ रही है और फायरिंग शुरू कर दी।

मौके पर एसआई व एएसआई सहित तीन ही पुलिस कर्मचारी थे इसलिए वह छिपे और सेट पर फोर्स भेजने का मैसेज दिया। पुलिस ने फायर भी किए लेकिन फायरिंग करते हुए माफिया ट्रैक्टर-ट्रॉली लेकर भाग गए। पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज किया है।

इस बारे में सिविल लाइन थाने के टीआई अजय चानना ने बताया कि एक्सीडेंट की सूचना के बाद पुलिस गई थी। घायल वहां से जा चुके थे।

-एक्सीडेंट में रेत से भरा ट्रैक्टर-ट्रॉली पलट गया था जिसे कुछ लोग सीधा कर रहे थे। पुलिस को देखकर उन्होंने फायरिंग की और बाद में वह ट्रैक्टर-ट्रॉली ले गए।