--Advertisement--

तीन माह पहले हुआ गैंगरेप, दबाव के बावजूद नहीं किया कंप्रोमाइज, अब इस तरह मिली बॉडी

तीन माह पहले हुआ गैंगरेप, दबाव के बावजूद नहीं किया कंप्रोमाइज, अब इस तरह मिली बॉडी

Dainik Bhaskar

Dec 11, 2017, 12:18 PM IST
गैग रेप की शिकार ने किया कंप्र गैग रेप की शिकार ने किया कंप्र

ग्वालियर. मुरैना में अंबाह के पास एक गांव में बहू के कमरे से देर रात 2 साल की पोती के रोने की आवाज सास ने सुनी तो वह कमरे में पहुंची। बहू वहां नहीं मिली, उसे तलाशने घर के बाहर गई तो बॉडी नीम के पेड़ पर लटकती नजर आई। सूचना मिलने पर पुलिस आई और मर्ग कायम कर बॉडी को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा। पति ने आरोप लगाया कि तीन माह पहले हुए गैंग रेप के फरार आरोपी ने हत्या कर सुषमा को पेड़ पर टांगा है, क्योंकि वह कंप्रोमाइज के लिए दबाव बना रहे थे। ये है मामला....


- मुरैना में अंबाह के गांव चतुर की गढ़ी का इंद्रजीत माहोर राजस्थान के करौली में जॉब करता है। घर में उसकी दो साल की बेटी जाह्नवी और 21 साल की पत्नी सुषमा मकान के ऊपर बने कमरे में अकेली थी।
- नीचे सुषमा की सास धनवंती और बाकी परिवार सो रहा था। रविवार रात पोती के रोने की आवाज सुन धनवंती ने बहू को आवाज लगाई, लेकिन कोई जवाब नहीं आया। इस पर वह उसके कमरे में गई और वहां पोती को अकेली देख घबरा गई।
- पोती को गोद में उठा कर वह बहू को तलाशने घर के बाहर गई तो पीछे खड़े नीम के पेड़ पर उसने बहू की बॉडी लटकती नजर आई। घबराकर धनवंती ने परिजन को आवाज लगाई, और बेटे को फोन पर हादसे की सूचना दी। परिजन और पड़ोसी धनवंती की आवाज सुन मौके पर पहुंचे तो सुषमा को नीम के पड़ पर लटका देख शॉक्ड रह गए। पुलिस को सूचना दी गई।
- मौके पर पहुंची पुलिस और फोरेंसिक टीम ने प्रारंभिक जांच के बाद मर्ग कायम कर बॉडी को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा।

हथेली पर लिखा था, 'मैने फांसी लगा ली'
- सुषमा के एक हाथ पर नीले बालपेन से लिखा मिला, ‘मैने फांसी लगा ली’, जबकि परिजन का आरोप है कि गैंग रेप के फरार आरोपी ने उसे मार कर नीम के पेड़ पर टांगा है, क्योंकि बालपेन से लिखे नोट की हैंड राइटिंग सुषमा की नहीं है। पुलिस फिलहाल मामले की जांच कर रही है।

गांव के दबंगों ने घर में कूद कर तीन माह पहले किया था गैंगरेप
- तीन माह पहले इंद्रजीत गुजरात के सूरत में जॉब करता था। पत्नी सुषमा अपनी बेटी के साथ अकेली रहती थी। घर में बुजुर्ग सास और ससुर रहते हैं।
- तीन सितंबर को रात नौ बजे गांव किसी तरह छत पर कूद कर गांव के दबंग दामोदर माहोर और नयापुरा का किशनलाल सुषमा के कमरे में कूदे और उसके साथ रेप कर भाग गए थे।
- सुषमा ने सुबह अपनी सास और ससुर को इस वाकए की जानकारी दी, और पति को गुजरात से बुला अंबाह पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करा दी थी। - सुषमा ने कोर्ट में आरोपियों के खिलाफ बयान दर्ज करा दिए थे। कुछ दिनों बाद पुलिस ने दामोदर माहोर को गिरफ्तार कर लिया था, जबकि किशनलाल फरार चल रहा है।

पति का आरोप आरोपी ने हत्या पर टांगी सुषमा की बॉडी
- पत्नी की मौत की सूचना पर करौली से गांव पहुंचे पति इंद्रजीत ने आशंका जताई कि फरार किशनलाल और उसके साथी जगदीश, कुंवरलाल एवं नंदकिशोर ने उसकी पत्नी को मारकर घर के पीछे पेड़ से लटका दिया।

- इंद्रजीत ने बताया कि पहले भी किशनलाल कई बार केस वापस नहीं लेने पर अंजाम भुगतने की धमकी सुषमा को दे चुका है।

स्लाइड्स में है, गैंग रेप्ड सुषमा की नीम के पेड़ पर लटकी बॉडी....

X
गैग रेप की शिकार ने किया कंप्रगैग रेप की शिकार ने किया कंप्र
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..