--Advertisement--

बेटे की शादी का लालच दे बेच दी नाबालिग बेटी, पुलिस के पास पहुंची तब खुला राज

बेटे की शादी का लालच दे बेच दी नाबालिग बेटी, पुलिस के पास पहुंची तब खुला राज

Dainik Bhaskar

Dec 26, 2017, 07:11 PM IST
पुलिस नें जबरन नाबालिग को शादी पुलिस नें जबरन नाबालिग को शादी

ग्वालियर. शिवपुरी की एक महिला को बेटे की शादी कराने का लालच दे एक दंपत्ति उसे लड़की दिखाने ग्वालियर लाया। बेटे की शादी तो कराई नहीं, शातिर दंपति नाबालिग बेटी को किडनैप कर गायब हो गए, और उसे एक रिश्तेदार को 16 हजार रुपए में बेच दिया। मां ने FIR दर्ज कराई थी, लेकिन मामले का खुलासा 3 साल बाद तब हुआ जब किडनैप लड़की किसी तरह खरीदने वाले के चंगुल से छूट घर पहुंच गई। ये है मामला....


- जून 2014 में शिवपुरी की महिला के घर परिचित दंपति मेहमान बने थे। उन्होंने बताया कि उनकी नजर में एक अच्छी लड़की है, जिससे मेजबान के बेटे की शादी करवा सकते हैं।
- अच्छी बहू मिलने के लालच में मां दंपति के साथ लड़की देखने ग्वालियर आई, नाबालिग बेटी भी होने वाली भाभी को देखने साथ आई थी।
- मेहमान दंपत्ति मेजबान मां-बेटी को ग्वालियर के फूलबाग पर ले आए, एक लड़की दिखाई। बातों के दौरान मेजबान का नाबालिग बेटी होने वाली भाभी से घुलमिल गई। मेहमान दंपति ने कहा कि उनका घर ग्वालियर के नजदीक है, यह दोनों लड़कियां घर जाकर खाना बना लेंगी, इसके बाद हम लोग चलेंगे।
- इसके बाद मेहमान महिला दोनों लड़कियों को टेंपो में बैठाने के बहाने चली गई, उसका पति शिवपुरी से बहू देखने आई मेजबान के साथ बैठा रहा। कुछ देर बाद वह भी झांसा देकर वहां से गायब हो गया।
- इसके बाद मां ने बेटी को दिन भर तलाश किया, लेकिन बेटी मिली न मेहमान दंपति, मां ने पड़ाव पुलिस थाने में बेटी के किडनैप की FIR दर्ज कराई।
दंपत्ति ने रिश्तेदार को 16 हजार में बेच दी नाबालिग
- बीते 20 दिसंबर को लड़की किसी तरह बचकर भागी और मां के पास शिवपुरी पहुंच गई। 21 दिसंबर को पड़ाव थाने के टीआई संतोष सिंह यादव को उसकी वापसी की सूचना मिली तो पुलिस बयान लेने शिवपुरी पहुंची।
- लड़की ने बताया कि रामकली आदिवासी और उसके पति कृपाल सिंह ने किडनैप कर उसे 16 हजार रुपए में मुरैना में टिकटौली के ऊदलनाथ सपेरा को बेच दिया था। पुलिस ने ऊदल को हिरासत में ले पूछताछ की तो उसने बताया कि उसके साले भुटीना नाथ की शादी नहीं हो रही थी, इसलिए लड़की को खरीदकर शादी करा दी थी।
- शादी के बाद भुटीना के घर में बंधक रही नाबालिग पर उसकी मां रामकली और पिता राजेंद्रनाथ उस पर नजर रखते थे। तीन सालों में भुटीना से उसे एक बेटी भी पैदा हुई।
- बेटी के जन्म के बाद भुटीना को लगा कि अब लड़की अपनी मां व भाई को भूल जाएगी और भागेगी नहीं। वह विक्की फैक्टरी इलाके में मजदूरी करने आया और खरीद कर जबरिया पत्नी बनाई गई नाबालिग को भी साथ ले आया। इसी दौरान मौका मिलते ही लड़की भाग कर मां के पास पहुंच गई।
- पुलिस ने नाबालिग की शिकायत पर ऊदलनाथ के साथ, भुटीना और उसकी मां रामकली को गिरफ्तार कर लिया, जबकि अपहरण करने वाले कृपाल सिंह और उसकी पत्नी रामकली की तलाश की जा रही है।

X
पुलिस नें जबरन नाबालिग को शादीपुलिस नें जबरन नाबालिग को शादी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..