--Advertisement--

भंडारे में आए लाखों लोग, कांक्रीट मशीन से तैयार हुआ मालपुए का घोल

भंडारे में आए लाखों लोग, कांक्रीट मशीन से तैयार हुआ मालपुए का घोल

Dainik Bhaskar

Jan 15, 2018, 05:41 PM IST
भंडारे में मालपुए के लिए कांक् भंडारे में मालपुए के लिए कांक्

ग्वालियर. मिक्चर मशीन को देखकर यह नहीं समझें कि कोई बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन का काम चल रहा है, बल्कि इस मशीन से भंडारे के लिए मालपुए का घोल बनाया जा रहा है। यह भंडारा आयोजित हुआ सोमवार को शिवपुरी के खेरे वाले हनुमान मंदिर में, जिसमें 50 गांव के लोगों ने खीर बनाने के लिए दूध दिया और शाम तक करीब डेढ़ लाख लोग प्रसाद पा चुके थे। खास बात ये है कि ट्रालियों में खीर बनाई गई। यह भंडारा देर रात तक चलता रहा। यह है मामला......


-हर साल खेरे वाले हनुमान मंदिर पर यह भंडारा आयोजित होता है। खीर-पूरी, माल-पुए और सब्जी भक्तों को प्रसाद के रूप में दी जाती है। इस भंडारे में दो लाख से ज्यादा लोग शामिल होते हैं। इसलिए माल-पुए का घोल सीमेंट कांक्रीट मशीन से तैयार किया जाता है।
-इसके साथ ही खीर किसी बर्तन में नहीं बल्कि ट्रैक्टर की ट्रॉलियों में पकाई गई। यहां तक कि परोसने के लिए भी ट्रॉलियों का ही सहारा लिया गया।


भंडारे में लगा 62 टन आटा और, 55 हजार लीटर दूध
खीर का दूध उबालने के लिए करीब 2 किलोमीटर के दायरे में भट्टियां बनाई गईं। कांक्रीट-मिक्सर से निकले शक्कर मेवा के मिश्रण को डाल कर खीर ट्रॉलियों में पकाई गई। हनुमान मंदिर में भंडारे के लिए आसपास के 50 से अधिक गांव के लोगों ने 55 हजार लीटर दूध टैंकरों में भेजा।
- भंडारे में करीब 62 टन आटा, 40 टन सब्जियों पकाई गईं। इसके बाद भक्तों को प्रसाद दिया गया। प्रसाद पाने का सिलसिला दोपहर 2 बजे से शुरु हुआ और देर रात 12 बजे चलता रहा।

स्लाइड्स में है, इस भंडारे के फोटोज.........

X
भंडारे में मालपुए के लिए कांक्भंडारे में मालपुए के लिए कांक्
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..