--Advertisement--

समाचार-३

समाचार-३

Danik Bhaskar | Jan 04, 2018, 11:49 AM IST
लोकायुक्त पुलिस ने बिजली कंपन लोकायुक्त पुलिस ने बिजली कंपन

ग्वालियर. लोकायुक्त पुलिस ने शनिवार की शाम को मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के दो इंजीनियरों को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है। इन इंजीनियरों ने एक मकान में लोड ज्यादा बताकर 30 हजार रुपए मांगे थे। इसकी शिकायत सही पाए जाने पर लोकायुक्त पुलिस ने कार्रवाई करके दोनों को पकड़ लिया। यह है मामला.....

-गेंडे वाली सड़क पर रहने वाले योगेन्द्र साहू का एक मकान बन रहा है। कुछ दिन पहले बिजली कंपनी के अस्सिटेंट इंजीनयर रोहित सेंगर ने मकान में छापा मारा था और बिजली चोरी का केस बनाने की धमकी दी थी।

-बिजली चोरी की बात सुनकर योगेन्द्र डर गया तो इंजीनियर ने मामला बंद करने के लिए 30 हजार रुपए की रिश्वत मांगी। इस रिश्वत में जूनियर इंजीनियर अनूप कुमार भी भागीदार हो गया।

-दोनों इंजीनियर मिलकर योगेन्द्र को परेशान करने लगे। तंग आकर योगेन्द्र ने लोकायुक्त पुलिस के एसपी अमित सिंह को पूरी बात बताई।

-लोकायुक्त पुलिस ने रिश्वत के लेनदेन की रिकॉर्डिंग की। रिश्वत की शिकायत सही पाई गई। शनिवार को रिश्वत की रकम लक्ष्मीगंज सब स्टेशन पर देना तय हुआ।

रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा दोनों इंजीनियरों को

-योगेन्द्र ने जैसे ही बिजली दफ्तर में दोनों इंजीनियरों को रिश्वत के 23 हजार रुपए थमाए, वैसे ही लोकायुक्त पुलिस के अफसरों ने छापा मार दिया। दोनों इंजीनियरों ने भागने की कोशिश भी की, लेकिन सफल नहीं हो पाए।

-इनके पास से रिश्वत के 23 हजार रुपए भी बरामद हो गए। अब लोकायुक्त पुलिस दोनों इंजीनियरों के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत कार्रवाई कर रही है।

स्लाइड्स में है इंजीनियरों के फोटोज.....