Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» Milk Men Not Get Price, Spread Milk On Road

पशुपालकों को दूध के दाम नहीं मिले तो ऐसे सड़क पर फैलाकर जताया विरोध

पशुपालकों को दूध के दाम नहीं मिले तो ऐसे सड़क पर फैलाकर जताया विरोध

Sameer Garg | Last Modified - Dec 21, 2017, 03:18 PM IST

ग्वालियर. बड़ी कंपनियों और डेयरी संचालकों ने पशुपालकों से कम दामों पर दूध खरीदना शुरू कर दिया तो वे विरोध पर उतर आए। मुरैना के सबलगढ़ कस्बे में दूधियों ने पहले तो 3 दिन तक दूध निर्माता कंपनियों और डेयरी में दूध नहीं दिया। अब सड़क पर सैकड़ों लीटर दूध बहाना शुरू कर दिया। दूधियों का कहना है कि उन्हें दूध का दाम 50 रुपए प्रति लीटर दिया जाए, नहीं तो वे सप्लाई बंद कर देंगे। यह है मामला.....


-चंबल रीजन में डेयरी संचालकों और मिल्क पाउडर बनाने वाली कंपनियों ने दूधियों से लिए जाना वाले दूध का दाम अचानक कम कर दिया। ये लोग दूधियों को 20 रुपए प्रति लीटर दाम देने लगे। इसका दूधियों ने विरोध किया।
-दूधियों का कहना है कि पहले 30 से 35 रुपए लीटर दाम डेयरी और मिल्क पाउडर बनाने वाली कंपनियां दे रही थीं। अब यह दाम 15 रुपए तक कम कर दिया। कंपनियां ज्यादा दाम देने को तैयार नहीं है।
इस संबंध में पशुपालकों ने प्रशासन का भी ज्ञापन दिया और दूध का दाम 50 रुपए प्रति लीटर करने की बात कही। इसके बाद भी समस्या का समाधान नहीं निकला। अंत में बुधवार और गुरुवार को दूधियों ने सड़क पर दूध फेंकना शुरू कर दिया।

सप्लाई रोककर सड़क पर फेंका दूध
-इसके अलावा शहरों में दूध की सप्लाई भी दूधियों ने रोक दी है। भारतीय किसान संघ के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य रामाधार शर्मा ने कहा कि जीएसटी के दुष्प्रभाव के चलते मालनपुर, धौलपुर की दुग्ध पदार्थ निर्माता कंपनियों ने दूध के रेट दस से 15 रुपए लीटर कम कर दिए हैं।
-चिलर सेंटर संचालक किसानों से 15 से 20 रुपए लीटर कम रेट में दूध की खरीदी पर उतर आए हैं। इसका विरोध किया जा रहा है।

स्लाइड्स में है दूध फेंकने के फोटोज.....

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Gwalior News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: yaha sdekon par aise fenk diyaa hazaaron litr dudh, fir ye wajah aaee samne
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×