--Advertisement--

मृत शिशु को डॉग ने मुंह में दबाकर दौड़ लगाई, वॉचमैन ने छुड़ाया और फिर उसे भेजा पोस्टमार्टम हाउस

मृत शिशु को डॉग ने मुंह में दबाकर दौड़ लगाई, वॉचमैन ने छुड़ाया और फिर उसे भेजा पोस्टमार्टम हाउस

Danik Bhaskar | Jan 13, 2018, 11:56 AM IST
दतिया के हॉस्पिटल कैंपस में पड दतिया के हॉस्पिटल कैंपस में पड

ग्वालियर. दतिया के जिला हॉस्पिटल में उस समय हड़कंप मच गया, जब एक डॉग ने दफनाए हुए नवजात शिशु को लेकर भागता दिखाई दिया। डॉग को चौकीदार ने देखा तो उसने डेड बॉडी को छुड़ाया। फिर डॉक्टर भी आ गए। बाद में पुलिस भी पहुंच गई और डेड बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। यह है मामला.....

-यह घटना दतिया हॉस्पिटल में शुक्रवार को हुई। एक नवजात शिशु की मौत हॉस्पिटल में डिलेवरी के दौरान हो गई। इस शिशु को पोस्टमार्टम हाउस के पास ही एक गड्ढे में भी दफना दिया गया।
-कुछ देर बाद एक डॉग ने गड्डे से शिशु की डेड बॉडी निकाल ली और उसे लेकर जाने लगा। एक स्थान पर वह डेड बॉडी को नोंचने लगा। उसी दौरान हॉस्पिटल के चौकीदार रामलाल ने उसे देख लिया।
-चौकीदार ने पत्थर फेंककर डॉग को भगाया। डॉग शिशु की डेड बॉडी छोड़कर भाग गया। यह डेड बॉडी एक लड़की की थी। चौकीदार ने इसकी सूचना डॉक्टर को दी। डॉक्टर भी वहां पहुंचे।

पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेजी डेड बॉडी
-इसके बाद पुलिस को भी खबर की गई। पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने शिशु की डेड बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
-नवजात के दाये हाथ पर प्लास्टर नुमा पट्‌टी बंधी थी और बाएं हाथ पर ड्रिप का बैनुला भी लगा हुआ था। यही नहीं बच्ची की नाड़ी भी लगी थी।

-इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि बच्ची हाल के कुछ घंटों पहले पैदा हुई थी और उसका इलाज अस्पताल में ही चल रहा था। मौत होने पर उसे गड्‌ढे में फेंक दिया गया।

डॉक्टर बोले, जांच होगी
-इस मामले में दतिया के डीएचओ डॉ. पीके शर्मा का कहना है कि पीएम हाउस के पास नवजात बच्ची का शव मिला था। उसे देखकर तो यही लग रहा था कि उसका अस्पताल में ही इलाज चल रहा था।

-मृत हो जाने पर हो सकता है वहां गड्‌ढे में डाल दिया हो। अब पुलिस ही पता लगाएगी कि मृत बच्ची किसकी है और उसका कहां इलाज चल रहा था।

स्लाइड्स में है इस मामले के फोटोज......