• Home
  • Mp
  • Gwalior
  • pm modi asserts, share the information regarding illicit financial dealing
--Advertisement--

क्करू मोदी: गैरकानूनी फाइनेंशियल डीलिंग्स पर रखें पैनी नजर, करें इंफॉर्मेशन शेयर

क्करू मोदी: गैरकानूनी फाइनेंशियल डीलिंग्स पर रखें पैनी नजर, करें इंफॉर्मेशन शेयर

Danik Bhaskar | Jan 08, 2018, 06:43 PM IST
पुलिस DG व IG कॉन्फ्रेंस के समापन पुलिस DG व IG कॉन्फ्रेंस के समापन

ग्वालियर. BSF अकादमी टेकनपुर में आयोजित पुलिस DG व IG कॉन्फ्रेंस के समापन पर PM नरेंद्र मोदी ने अफसरों से गैरकानूनी फाइनेंशियल डीलिंग्स पर खास नजर रखने और इंफॉर्मेशन शेयरिंग करने पर जोर देने की अपील की। PM मोदी ने बताया कि इस दिशा में ग्लोबल सहमति बनी है और भारत को इसमें की रोल प्ले करना है। प्रधानमंत्री ने पुलिस अफसरों से सायबर सिक्योरिटी संबंधी इश्यूज को तत्काल पिन-पॉइंट करते हुए प्रायोरिटी से लेने को कहा। राज्यों की पुलिस करे इंफॉर्मेशन शेयरिंग....


- देश के टॉप पुलिस अफसर के 3 दिन तक आंतरिक सुरक्षा से लेकर पुलिस रिफॉर्म पर मंथन के बाद सोमवार को ग्वालियर की टेकनपुर स्थित BSF अकादमी से विदा हो गए।
- पुलिस DG व IG कॉन्फ्रेंस में अफसरों और मंत्रियों के साथ PM नरेंद्र मोदी ने भी 33 घंटे विचार विमर्श किया। कॉन्फ्रेंस के समापन पर अफसरों को संबोधित करते हुए PM ने अफसरों को बताया कि गैरकानूनी फाइनेंशियल डीलिंग्स पर पैनी नजर रखते हुए ग्लोबल इंफॉर्मेशन शेयरिंग पर सहमति बन रही है।
- PM मोदी ने कहा कि गैरकानूनी फाइनेंशियल डीलिंग से संबंधित देशों के बीच आपसी समझबूझ और पारदर्शिता बढ़ाने की दिशा में सहमति बनाने के लिए भारत को की रोल प्ले करना होगा। इसके लिए जरूरी है कि देश के राज्यों की पुलिस और संबंधित विभागों के बीच भी इंफॉर्मेशन शेयरिंग तेजी से बढ़े। उन्होंने अफसरों से कहां कि हमें कलेक्टिव मशीनरी नहीं संगठित इंसानी इकाई के तौर पर काम करना होगा।


सायबर सिक्योरिटी को तत्काल प्रायोरिटी पर लें
- पुलिस DG व IG कॉन्फ्रेंस के समापन पर PM मोदी ने सायबर सिक्योरिटी संबंधित इश्यू को तत्काल प्रायोरिटी से लेने को कहा। उन्होंने इसके लिए सोशल मीडिया के प्रभावी उपयोग और इसके लिए क्षेत्रीय भाषाओं के ज्यादा प्रयोग पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया के प्रयोग युवाओं में पनपती कट्टरपंथी सोच को पहचान कर उसे दूर करने में किया जाना असरकारक होगा।
- PM मोदी ने पिन-पॉइंट प्रॉब्लम एरियाज में सर्विलांस के लिए आधुनिकतम तकनीक के प्रयोग का आव्हान किया।


कॉन्फ्रेंस को दिल्ली से बाहर लाने से हुआ सुधार, अब फॉलोअप पर जोर
- PM मोदी ने पुलिस DG व IG कॉन्फ्रेंस को दिल्ली से बाहर निकाल कर देश के दूसरे हिस्सों में भी आयोजित किए जाने को देश भर की समस्याएं जानने और सुलझाने के लिए सुझाव हासिल करने के लिए फायदेमंद बताया।
- गौरतलब है कि 2016 की DG/IG कॉन्फ्रेंस हैदराबाद में हुई थी। इसके बाद ग्वालियर के टेकनपुर में स्थित BSF अकादमी को इसके आयोजन का मौका मिला।
- PM मोदी ने अफसरों से इस कॉन्फरेंस में जूनियर अफसरों का इन्वॉल्वमेंट बढ़ाने और उनके सुझावों को भी सीरियसली लेने को कहा। PM मोदी ने अब इस तरह की कॉन्फ्रेंसेज के लगातार फॉलोअप करने के निर्देश दिए।
- कॉन्फ्रेंस में PM मोदी ने देश की आंतरिक सुरक्षा में जुटे अफसरों की तारीफ करते हुए कहा कि नकारात्मकता के माहौल में भी अपनी ड्यूटी का अच्छी तरह निर्वाह कर पाते हैं।

इन मुद्दों पर हुई कॉन्फ्रेंस में चर्चा
- देश की आंतरिक सुरक्षा से लेकर ह्यूमन ट्रैफिकिंग, साइबर आतंकवाद, सोशल मीडिया के समाज पर प्रभाव, क्रॉस बॉर्डर टेररिज्म समेत गैरकानूनी फाइनेंशियल डीलिंग और सायबर सिक्योरिटी पर चर्चा हुई।
- कॉन्फ्रेंस में पूरे देश से करीब 250 IPS अफसर शामिल हुए इस मीटिंग में होम मिनिस्ट्री ने पूरे देश में आतंकी गतिविधियों पर रोक लगाने के संबंध में प्रजेंटेशन दिया।