Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» Police Conduct City History Sheeter Criminals Padre

हिस्ट्रीशीटर बदमाशों की पुलिस ने ऐसे निकाली परेड, फिर दिलाई क्राइम नहीं करने की शपथ

पुलिस ने शहर के हिस्ट्रीशीटर बदमाशों को परेड निकाली और फिर उनसे क्राइम नहीं करने की शपथ दिलवाई।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jan 24, 2018, 07:52 AM IST

  • हिस्ट्रीशीटर बदमाशों की पुलिस ने ऐसे निकाली परेड, फिर दिलाई क्राइम नहीं करने की शपथ
    +4और स्लाइड देखें
    पुलिस ने शहर के हिस्ट्रीशीटर बदमाशों को घर से उठाया और ऐसे कराई महाराज बाड़े पर परेड

    ग्वालियर.पुलिस ने शहरी सीमा के सभी थानों के हिस्ट्रीशीटर बदमाशों को महाराज बाड़े पर एकत्र किया। पहले उनकी परेड कराई। फिर उनके फिंगरप्रिंट और रिकार्ड को अपडेट किया। इसके बाद एडीशनल एसपी क्राइम की दुनिया से दूर रहने की शपथ दिलाई। बदमाशों ने भी हाथ जोड़कर कहा वे खुद क्राइम से दूर रहना चाहते हैं। यह है मामला.......


    -रविवार की दोपहर को लोगों को महाराज बाड़े पर 100 से ज्यादा लोग लाइन में चलते दिखाई दिए। इसके बाद ये सभी लोग पुलिस चौकी पर एकत्र हुए और हाथ जोड़कर क्राइम से दूर रहने की शपथ लेने लगे।
    -दरअसल ये लोग शहर के 13 थानों के निगरानीशुदा यानि हिस्ट्रीशीटर बदमाश थे। इन सभी को पुलिस घरों से बुलाकर लाई और महाराज बाड़े पर लाइन लगाकर परेड करा दी।
    -एडीशनल एसपी दिनेश कौशल ने बताया कि ज्यादातर बदमाश परेड में शामिल हुए। कि परेड के अलावा इन बदमाशों की जानकारी और प्रिंगर प्रिंट को अपडेट किया गया।


    बदमाशों ने कानून के रास्ते पर चलने की शपथ ली
    -इन बदमाशों ने एक कतार में खड़े होकर हाथ आगे कर अपने ईश्वर को साक्षी मानकर कानून के रास्ते पर चलने की शपथ ली। एएसपी दिनेश कौशल ने इन लोगों को समझाइश दी कि एक अच्छे नागरिक होने के नाते पुलिस की मदद करें।
    -गलत धंधों व शरारती तत्वों की जानकारी थाना प्रभारी व बीट के स्टाफ को दें। शहर में अपराधों पर अंकुश लगाने में मदद करने वाले बदमाशों को पुलिस पुरस्कार भी देगी।


    साहब, पिछले 15 साल के कुछ नहीं किया
    -जनकगंज थाना क्षेत्र का निगरानीशुदा बदमाश ने पुलिस अधिकारियों को बताया कि पिछले 15 साल से उसके खिलाफ एक भी प्रकरण दर्ज नहीं हुआ है। इसके बाद भी उसका नाम निगरानीशुदा बदमाशों की लिस्ट में है।
    -पुलिस त्योहारों पर उसके दरवाजे पर खड़ी हो जाती है। एक बदमाश ने कहा कि वह पिछले 5 साल से सब्जी का ठेला लगाकर अपना व अपने परिवार का पेट भर रहा है। इसके बाद भी उसका नाम भी निगरानीशुदा बदमाशों में शामिल है।


    3साल जिन लोगों ने कोई अपराध नहीं किया उन्हें माफी मिलेगी
    -एएसपी दिनेश कौशल ने बताया कि सभी थानों में निगरानीशुदा बदमाशों की सूची अपडेट की जाएगी। जिन लोगों ने पिछले 3 साल में कोई अपराध नहीं किया है, उन्हें माफीशुदा बदमाशों की सूची में ट्रांसफर किया जाएगा।

    स्लाइड्स में हैं, इस परेड के फोटोज......

  • हिस्ट्रीशीटर बदमाशों की पुलिस ने ऐसे निकाली परेड, फिर दिलाई क्राइम नहीं करने की शपथ
    +4और स्लाइड देखें
    महाराज बाड़े से कोतवाली थाने तक हुई बदमाशों की परेड
  • हिस्ट्रीशीटर बदमाशों की पुलिस ने ऐसे निकाली परेड, फिर दिलाई क्राइम नहीं करने की शपथ
    +4और स्लाइड देखें
    परेड से पहले पुलिस ने दिलाई क्राइम नहीं करने की शपथ
  • हिस्ट्रीशीटर बदमाशों की पुलिस ने ऐसे निकाली परेड, फिर दिलाई क्राइम नहीं करने की शपथ
    +4और स्लाइड देखें
    हिस्ट्रीशीटर बदमाशों ने भी हाथ जोड़कर कहा नहीं करके अपराध
  • हिस्ट्रीशीटर बदमाशों की पुलिस ने ऐसे निकाली परेड, फिर दिलाई क्राइम नहीं करने की शपथ
    +4और स्लाइड देखें
    पुलिस ने हिस्ट्रीशटर बदमाशों का क्राइम रिकार्ड अपडेट किया है
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Gwalior News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Police Conduct City History Sheeter Criminals Padre
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×