--Advertisement--

न्यूज-१

न्यूज-१

Danik Bhaskar | Dec 27, 2017, 06:50 PM IST

ग्वालियर. शिवपुरी के सतनवाड़ा में चंदनपुरा के एक खेत में RCC छत ढालने के लिए शेंटिंग को कारोबारी की खून से लथपथ बॉडी मिलने से कस्बे में सनसनी फैल गई। उसके सिर में 315 बोर की गोली आरपार मिली, पास ही बाइक और मृतक की जेब नें दो चाबियां बरामद की गईं। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज करा जांच शुरू कर दी है। ये है मामला....

- महेश शर्मा के बेटे सूरज ने बताया कि मंगलवार शाम 6:30 बजे उसके पिता के मोबाइल पर कोई फोन आया था, इसके बाद वह वह चले गए, लेकिन देर रात तक वह वापस नहीं लौटे और बुधवार की सुबह चंदनपुरा के खेत में में उनकी बॉडी मिली है।

- सूरज ने बताया कि उसके पिता ने संतोष यादव को 1.50लाख रुपए ठेकेदारी शुरू करने के लिए दिए थे, लेकिन संतोष यादव उनके वह रुपए वापस नहीं लौटा रहा था जिससे वह काफी परेशान थे।

पुलिस सुन लेती तो नहीं होती मेरे पिता की हत्या
- महेशके बेटे पुत्र सूरज ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि उसक पिता ने 11 दिसम्बर को शिवपुरी के SP सुनील कुमार पांडे को एक शिकायती आवेदन दिया था।

- आवेदन में उन्होंने बताया था कि ग्वालियर में ठाटीपुर की दर्पण कॉलोनी का संतोष यादव उनके पास आया था और उन्हें रेलवे में 13.5 हजार रुपए प्रतिमाह की नौकरी दिलाने के वादा किया था। इसके लिए उसने उनसे 1.5 लाख रुपए लिये।

- संतोष तब से न रुपए दे रहा था न नौकरी दिला सका था। SP ने इस शिकायत पर कोतवाली TI संजय मिश्रा को कार्रवाई न करने के लिए आवेदन दे दिया था, लेकिन पुलिस ने तत्काल कोई कार्रवाई नहीं की। सूरज ने आरोप लगाया कि उसके पिता की हत्या में संतोष का ही हाथ है।

शेंटिंग लगाने का ठेका लेता था मृतक
मृतक महेश शर्मा शिवपुरी रेलवे क्रॉसिंग के पास सेंटिंग लगाने के कार्य से संबंधित दुकान संचालित करता था और सेंटिंग लगाने का ठेका लेता था।

- इसी सिलसिले में उसका संपर्क संतोष यादव से हुआ और धीरे- धीरे पहचान बढ़ाकर उसने मृतक से उधार ले लिया।

- शिवपुरी के SDOP जीडी शर्मा ने बताया कि अभी जांच की जा रही है, मृतक के परिजन की आशंका पर कल्याण जाटव और संतोष यादव की तलाश की जा रही है ।