--Advertisement--

रूक्क के अजब-गजब सरकारी स्कूल: हैड-मास्टर नहीं पहचानता क्करू को, टीचर नहीं जानता कलेक्टर कौन

रूक्क के अजब-गजब सरकारी स्कूल: हैड-मास्टर नहीं पहचानता क्करू को, टीचर नहीं जानता कलेक्टर कौन

Dainik Bhaskar

Dec 06, 2017, 08:01 PM IST
खाली तारीख की एप्लिकेशन रख गाय खाली तारीख की एप्लिकेशन रख गाय
ग्वालियर. मुरैना में प्रतिभा पर्व की असलियत का जायजा लेने DEO ने देहात के स्कूलों कै दौरा किया। दीपैरा और डिडोखर गांव के स्कूल में पहुंचे तो उस समय भौचक्के रह गए जब वहां मिडिल स्कूल का हैड मास्टर नरेंद्र मोदी की कई तस्वीरों में PM को नहीं पहचान पाया। हैड-मास्टर की नॉलेज से सकते में आए DEO को उस वक्त और गहरा शॉक लगा जब मिडिल स्कूल का टीचर मुरैना के कलेक्टर का नाम नहीं बता सका। ये है मामला....

- मुरैना के DEO सुरेश जाधव उस समय सन्न रह गए जब मिडिल स्कूल दीपैरा का टीचर कलेक्टर का नाम नहीं बता सका। इसी स्कूल के प्रभारी हैड-मास्टर को Ex-PM लाल बहादुर शास्त्री और वर्तमान PM नरेन्द्र मोदी की अलग-अलग तस्वीरें दिखाई गईं तो वह उन्हें नहीं पहचान सका। इतना ही नहीं DEO को कई स्कूलों में स्टूडेंट्स टेस्ट के दौरान नकल करते नजर आए। नाराज DEO ने 45 टीचर्स को नोटिस जारी किए हैं।
- स्कूल एजुकेशन के योजना अधिकारी एसके गौड़ बुधवार को मुरैना के मिडिल स्कूल डिडोखर पहुंचे तो वहां हैड-मास्टर बृजेश शर्मा 4 दिसंबर से नदारद पाया गया। उसकी लीव एप्लिकेशन अटेंडेंस रजिस्टर में रखा मिला। एप्लिकेशन मे मेडिकल लीव पर होने की तारीख की जगह खाली थी। साथ गए DEO सुरेश जाधव ने एप्लिकेशन को जब्त कर लिया।
- मिडिल स्कूल में प्रतिभा पर्व चल रहा था, इस दौरान उपस्थित 52 में से अधिकांश एक दूसरे की कॉपियों में से देख-देखकर आंसर लिखते पाए गए। प्रतिभा पर्व में 206 में से सिर्फ 52 बच्चे ही मौजूद मिले।
- डिडोखर के हायर सेकंडरी स्कूल में दर्ज 254 छात्रों में से एक भी उपस्थित नहीं मिला। प्राइमरी स्कूल डिडोखर में 28 में से 10 छात्र उपस्थित मिले, लेकिन वहां प्रतिभा पर्व का आयोजन ही नहीं किया गया था।
- रम्पूपुरा के प्राइमरी स्कूल में टीचर विवेक व सत्यराम सिकरवार से पूछा गया कि प्रदेश में कितने संभाग हैं तो वे जवाब नहीं दे पाए। मिडिल स्कूल दीपैरा में छह शिक्षक नियमित होने के बाद भी वहां दो अतिथि शिक्षकों को काम पर रखा गया था। दीपैरा के हायर सेकंडरी स्कूल में कक्षा 9 के बच्चों से किताब के पहले पाठ का नाम पूछा गया तो नहीं बता पाए।
X
खाली तारीख की एप्लिकेशन रख गायखाली तारीख की एप्लिकेशन रख गाय
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..