Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» Street Dog Gang Terrors In District Hospital, Cmho Accepts

डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल के वार्ड्स में बेखौफ घूमता है कुत्तों का झुंड, गार्ड ने रोका न वार्ड बॉय ने

डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल के वार्ड्स में बेखौफ घूमता है कुत्तों का झुंड, गार्ड ने रोका न वार्ड बॉय ने

Pushpendra Singh | Last Modified - Dec 08, 2017, 04:48 PM IST

ग्वालियर. श्योपुर के डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में पेशेंट्स और अटेंडेंट्स को डर बीमारी से नहीं जितना आवारा कुत्तों से लगता है। क्योंकि रात होते ही आवारा कुत्तों का पूरा गिरोह हॉस्पिटल में घुस कर वार्ड तक दंगल करता है। बीते कुछ दिनों से इन कुत्तों की संख्या और आतंक बढ़ गया है, क्योंकि मैन गेट्स पर लगाए गए कैटल कैचर काम नहीं कर रहे हैं, और सिक्योरिटी गार्ड्स नदारद रहते हैं। ये है मामला....


- ये नजारा किसी बस स्टैंड या मुसाफिरखाने का नहीं, श्योपुर के डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल का है। रात होते ही आवारा कुत्तों के गैंग का हॉस्पिटल कैंपस पर कब्जा हो जाता है। ये फर्राटे भरते हुए वार्ड्स के अंदर तक पहुंच कर वहां फाइट प्रैक्टिस करते हैं।
- हालांकि दस्तावेजों में डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल की सिक्योरिटी के लिए गार्ड्स तैनात हैं। नाइट ड्यूटी के लिए वार्ड बॉय और नर्सिंग स्टाफ भी नियुक्त है। इसके बावजूद आवारा कुत्तों की टोलियों को हॉस्पिटल में हुड़दंग की मोहलत मिल जाती है।
- जब ये लड़ते दौड़ते थक जाते हैं तो वार्ड्स में ही सोने की कोशिश करने लगते हैं, और सर्दी से बचने के लिए नींद में खोए पेशेंट्स और अटेंडेंट्स के कपड़ों पर भी झपट्टा मार देते हैं। आवारा कुत्तों की दहशत से पेशेंट्स के अटेंडेंट्स खाने पीने का सामान भी नीचे नहीं रख पा रहे हैं।

कभी भी हो सकता है हादसा
- आवारा कुत्तों की गैंग का धमाल कभी भी हॉस्पिटल में हादसे की वजह बन सकता है। कुत्ते रात के समय सर्दी से बचने के लिए मरीजों के कपड़ों पर कब्जा जमा लेते हैं। खाली हाथ इन्हें भगाने की कोशिश की जाए तो ये अटैक भी कर देते हैं।
- कुत्तों में रैबीज और जर्म होने की वजह से मरीजों में इंफेक्शन फैलने की आशंका भी बनी रहती है। सबसे बड़ा खतरा तो जनरल वार्ड्स में एडमिट दर्जनों बच्चों और नव प्रसूता व उनके नवजात बच्चों के लिए रहता है।

कैटल कैचर खराब हैं, लेकिन सिक्योरिटी गार्ड तो तैनात हैं
- श्योपुर के CMHO व सिविल सर्जन डॉ.एनसी गुप्ता ने स्वीकार किया कि डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल के कैटल कैचर खराब हैं, इन्हें सही कराया जा रहा है। हालांकि डॉ.गुप्ता के मुताबिक के सिक्योरिटी गार्ड्स तैनात हैं और नर्सिंग स्टाफ को सख्त निर्देश हैं कि इस तरह की परेशानी सामने आते ही गार्ड्स को तत्काल बुलाएं।

स्लाइड्स में हैं, श्योपुर के डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में आवारा कुत्तों का झुंड....

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Gwalior News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: distrikt hospitl ke vaards mein bekhauf ghumtaa hai kutton ka jhund,khauf mein rhte hain mrij aur atendents
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×