Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» This Girl Headless Dead Body Recovered, Missing From 5 Days

कोचिंग पढ़ने गई थी 5 दिन पहले, फोर्ट की तलहटी में इस हाल में मिली बॉडी

सिर कटी डेड बॉडी एक शिखा त्रिपाठी नाम की लड़की थी, जो 22 दिसंबर से गायब थी।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Jan 01, 2018, 09:11 AM IST

  • कोचिंग पढ़ने गई थी 5 दिन पहले, फोर्ट की तलहटी में इस हाल में मिली बॉडी
    +7और स्लाइड देखें
    22 दिसंबर कोकॉमर्स की कोचिंग पढ़ने गई थी 17 साल की 11th की स्टूडेंट शिखा, किला तलहटी में 5 दिन बाद मिली बॉडी, सिर था गर्दन से अलग

    ग्वालियर.फोर्ट की तलहटी में मिली सिर कटी बॉडी की शिनाख्त हो गई है। बॉडी 17 साल की 11th की स्टूडेंट शिखा त्रिपाठी की है। वह 22 दिसंबर को कोचिंग में पढ़ने गई थी, लेकिन लौटी नहीं। उसके पेरेंट्स ने इंदरगंज पुलिस थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई थी। शिनाख्त के बाद भी शिखा के सुसाइड या मर्डर की पहेली सुलझाने का कोई क्लू पुलिस के हाथ नहीं लगा है। यह है मामला....

    -बुधवार शाम को नूरगंज इलाके के पास फोर्ट की तलहटी में एक युवती की बिना सिर की बॉडी मिली थी। बाद में पुलिस की तलाश में उसका स्कल बन चुका सिर भी पुलिस को मिल गया था, चेहरा पूरी तरह जानवर साफ कर चुके थे।

    -पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू की, सभी पुलिस थानों में लापता लोगों की दर्ज रिपोर्ट्स देखी गईं। इसमें इंदरगंज थाने में शिखा त्रिपाठी की 22 दिसंबर को दर्ज गुमशुदगी के आधार पर उसके पेरेंट्स को सूचना दी गई।

    - गुरुवार शाम पेरेंट्स ने कपड़ों के आधार पर शिनाख्त कर बॉडी शिखा की होने की तस्दीक कर दी।

    कोचिंग से लापता हुई थी लड़की
    -पुलिस ने शिखा के पिता प्रदीप त्रिपाठी डेड बॉडी की बेटी शिखा के तौर पर शिनाख्त की, और बताया कि शिखा 22 दिसंबर की शाम विनय शर्मा की कोचिंग में कॉमर्स पढ़ने गई थी, फिर वापस नहीं लौटी।
    - देर रात तक तलाश और रिश्तेदार मित्रों पूछताछ करने के बाद भी शिखा के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली और न ही वह लौटी तो पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई गई।

    मर्डर या सुसाइड की पहेली सुलझाने की चुनौती

    - बॉडी की शिनाख्त के बाद भी पुलिस के सामने यह जानने की चुनौती है कि शिखा की हत्या हुई या फिर उसने सुसाइड किया।

    - पुलिस के सामने सवाल यह भी है कि शिखा का सिर कैसे शरीर से अलग हुआ, और कैसे स्कल बनकर शरीर से 10 फीट दूर मिला। इसके साथ ही अब सवाल उठ रहे हैं कि शिखा जब कोचिंग गई थी तो उसके साथ बैग और दूसरा सामान भी रहा होगा, वह आखिर कहां गया।

    - पुलिस 17 साल की 11th की स्टूडेंट शिखा के फ्रेंड्स और कोचिंग के स्टाफ से भी जानकारी जुटा रही है।

  • कोचिंग पढ़ने गई थी 5 दिन पहले, फोर्ट की तलहटी में इस हाल में मिली बॉडी
    +7और स्लाइड देखें
    5 दिन पहले कोचिंग से लापता हुई शिखा त्रिपाठी की बॉडी फोर्ट की तलहटी में इस हाल में मिली
  • कोचिंग पढ़ने गई थी 5 दिन पहले, फोर्ट की तलहटी में इस हाल में मिली बॉडी
    +7और स्लाइड देखें
    5 दिन पहले कोचिंग से लापता हुई शिखा त्रिपाठी की बॉडी, 10 फीट दूर मिला था स्कल बन चुका सिर
  • कोचिंग पढ़ने गई थी 5 दिन पहले, फोर्ट की तलहटी में इस हाल में मिली बॉडी
    +7और स्लाइड देखें
    22 दिसंबर को शिखा के लापता होने के बाद पेरेंट्स ने इंदरगंज पुलिस थाने में दर्ज कराई थी गुमशुदगी
  • कोचिंग पढ़ने गई थी 5 दिन पहले, फोर्ट की तलहटी में इस हाल में मिली बॉडी
    +7और स्लाइड देखें
    शिखा त्रिपाठी की बॉडी से 10 फीट दूर मिले स्कल में जबड़े और दांत समेत गर्दन की हड्डी मिली है तहस-नहस
  • कोचिंग पढ़ने गई थी 5 दिन पहले, फोर्ट की तलहटी में इस हाल में मिली बॉडी
    +7और स्लाइड देखें
    किला तलहटी में 12 दिन के अंदर दो बिना सिर की बॉडी मिलने से इलाके में दहशत
  • कोचिंग पढ़ने गई थी 5 दिन पहले, फोर्ट की तलहटी में इस हाल में मिली बॉडी
    +7और स्लाइड देखें
    शिखा के पिता ने कपड़ों को देख की तस्दीक, बॉडी उनकी बेटी की
  • कोचिंग पढ़ने गई थी 5 दिन पहले, फोर्ट की तलहटी में इस हाल में मिली बॉडी
    +7और स्लाइड देखें
    शोक में डूबे शिखा के पिता को हैरानी, बेटी सुसाइड नहीं कर सकती, पढ़ने में थी होशियार, किसी से दुश्मनी भी नहीं
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Gwalior News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: This Girl Headless Dead Body Recovered, Missing From 5 Days
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×