--Advertisement--

कोचिंग पढ़ने गई स्टूडेंट की निकली सिर कटी डेड बॉडी, ५ दिन से थी लापता

कोचिंग पढ़ने गई स्टूडेंट की निकली सिर कटी डेड बॉडी, ५ दिन से थी लापता

Danik Bhaskar | Dec 28, 2017, 03:57 PM IST
शोक में डूबे शिखा के पिता को है शोक में डूबे शिखा के पिता को है

ग्वालियर. फोर्ट की तलहटी में मिली सिर कटी बॉडी की शिनाख्त हो गई है। बॉडी 17 साल की 11th की स्टूडेंट शिखा त्रिपाठी की है। वह 22 दिसंबर को कोचिंग में पढ़ने गई थी, लेकिन लौटी नहीं। उसके पेरेंट्स ने इंदरगंज पुलिस थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई थी। शिनाख्त के बाद भी शिखा के सुसाइड या मर्डर की पहेली सुलझाने का कोई क्लू पुलिस के हाथ नहीं लगा है। यह है मामला....

-बुधवार शाम को नूरगंज इलाके के पास फोर्ट की तलहटी में एक युवती की बिना सिर की बॉडी मिली थी। बाद में पुलिस की तलाश में उसका स्कल बन चुका सिर भी पुलिस को मिल गया था, चेहरा पूरी तरह जानवर साफ कर चुके थे।

-पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू की, सभी पुलिस थानों में लापता लोगों की दर्ज रिपोर्ट्स देखी गईं। इसमें इंदरगंज थाने में शिखा त्रिपाठी की 22 दिसंबर को दर्ज गुमशुदगी के आधार पर उसके पेरेंट्स को सूचना दी गई।

- गुरुवार शाम पेरेंट्स ने कपड़ों के आधार पर शिनाख्त कर बॉडी शिखा की होने की तस्दीक कर दी।

कोचिंग से लापता हुई थी लड़की
-पुलिस ने शिखा के पिता प्रदीप त्रिपाठी डेड बॉडी की बेटी शिखा के तौर पर शिनाख्त की, और बताया कि शिखा 22 दिसंबर की शाम विनय शर्मा की कोचिंग में कॉमर्स पढ़ने गई थी, फिर वापस नहीं लौटी।
- देर रात तक तलाश और रिश्तेदार मित्रों पूछताछ करने के बाद भी शिखा के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली और न ही वह लौटी तो पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई गई।

मर्डर या सुसाइड की पहेली सुलझाने की चुनौती

- बॉडी की शिनाख्त के बाद भी पुलिस के सामने यह जानने की चुनौती है कि शिखा की हत्या हुई या फिर उसने सुसाइड किया।

- पुलिस के सामने सवाल यह भी है कि शिखा का सिर कैसे शरीर से अलग हुआ, और कैसे स्कल बनकर शरीर से 10 फीट दूर मिला। इसके साथ ही अब सवाल उठ रहे हैं कि शिखा जब कोचिंग गई थी तो उसके साथ बैग और दूसरा सामान भी रहा होगा, वह आखिर कहां गया।

- पुलिस 17 साल की 11th की स्टूडेंट शिखा के फ्रेंड्स और कोचिंग के स्टाफ से भी जानकारी जुटा रही है।