Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» Wife Set Ablaze Along Son To Suicide

मेले देखता रहा पति, घर में पत्नी ने बेटे समेत किया आत्मदाह, आग की चपेट में आए पड़ोस के भी घर

मेले देखता रहा पति, घर में पत्नी ने बेटे समेत किया आत्मदाह, आग की चपेट में आए पड़ोस के भी घर

Pushpendra Singh | Last Modified - Dec 03, 2017, 10:59 AM IST

ग्वालियर.दतिया के रिछौरा में रहने वाली एक नव विवाहिता का पति लड़ झगड़कर पास के इंदरगढ़ कस्बे में लगे मेले में चला गया। घर में अकेली रह गई पत्नी ने 1.5 साल के बेटे को गोद में बैठा कर कैरोसिन की पूरी कट्टी उड़ेली और आग के हवाले कर दिया। मां-बेटे आग की लपटों में जल कर पूरी तरह राख हो गए। आग की लपटें घर के छप्पर से पड़ोस के घरों तक भी फैल गई। ये है मामला....


- दतिया के रिछौरा अनिल का पत्नी बबीता से शनिवार दोपहर खाना खाने के समय झगड़ा हुआ। इसके बाद वह पास के कस्बे इंदरगढ़ में मेला देखने चला गया। पति के घर से बाहर जाते ही गुस्से में आई 25 साल की बबीता ने 1.5 साल के बेटे बच्चे को गोद में बैठाया और घर में केरोसिन कट्टी से पूरा उड़ेल लिया, और आग लगा ली।
- आग इतनी भीषण थी कि पलक झपकते मां-बेटे जल कर राख हो गए। कैरोसिन ने मां-बेटे को साथ ही आस पास के फर्श को भी पूरी तर भिगो दिया था, साथ ही घर में रखे कपड़ों तक भी फर्श पर फैला कैरोसिन पहुंच गया था।

- इसलिए आग की लपटें इतनी ऊंची उठीं कि घर छत पर तने छप्पर को भी चपेट में ले लिया। धू-धू कर जलते छप्पर से आग पड़ोसी घरों तक भी पहुंच गई।
- आग की लपटें देख और मां-बेटे की चीखें सुन पड़ोसी बाहर निकले तो सन्न रह गए। सब अनिल के घर की ओर दौड़े, लेकिन दरवाजा अंदर से बंद होने की वजह से तत्काल अंदर नहीं जा सके। दरवाजा तोड़ा गया तब लोग अंदर गए, लेकिन तब तक भीषण आग ने मां-बेटे की बॉडीज को भी राख बना दिया।
- पड़ोसियों ने अनिल और उसके पड़ोस में बने कच्चे घरों की आग बुझाने की कोशिश की, लेकिन काबू न आते देख पुलिस को सूचना दी गई। सूचना मिलने पर पुलिस फायर ब्रिगेड के साथ मौके पर पहुंची और आग बुझाई गई।

- पुलिस ने मर्ग कायम कर अनिल को सूचना देकर बुलवाया, अनिल घर के हालत और पत्नी-बेटी की राख हुई बॉडीज देख चिल्ला कर रो पड़ा।

परिजन ने लगाया प्रताड़ना का आरोप
- बबीता की शादी चार साल पहले 2013 में रिछौरा के अनिल से हुई थी। शादी के बाद मायके वाले पड़ोस के गांव बरौदी से ग्वालियर के पनिहार में आकर रहने लगे। बबीता के पिता विजय ने बताया कि शादी के बाद से ही अनिल बबीता को दहेज के लिए प्रताड़ित करता था। बबीता ने कई बार अनिल की मारपीट की शिकायत मायके वालों से भी की, लेकिन गरीब परिवार उसकी डिमांड पूरी नहीं कर सकता था।
- पिता ने आशंका जताई कि चार साल के टॉर्चर और बेटे के जन्म के बाद भी दहेज के लिए आए दिन मारपीट से परेशान होकर ही बबीता ने इतना बड़ा कदम उठाया होगा। परिजन की शिकायत को देखते हुए मामले की जांच SDOP खुद कर रहे हैं।

स्लाइड्स में है पत्नी ने बेटे समेत किया आत्मदाह, घर भी पूरी तरहजल करहुआ राख.....

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Gwalior News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: melaa dekhtaa raha pti, ghr mein patni ne bete smet kiyaa aatmdaah, aag mein jle pड़os ke bhi ghr
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×