Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» Without Stage & Mike Villagers Loudly Folk Songs

न स्टेज और न ही माइक, केवल दमदार आवाज वाले ही गाते हैं गाना, सुनने आते हैं हजारों लोग

न स्टेज और न ही माइक, केवल दमदार आवाज वाले ही गाते हैं गाना, सुनने आते हैं हजारों लोग

Sameer Garg | Last Modified - Dec 26, 2017, 12:46 PM IST

ग्वालियर. कोई स्टेज नहीं और न ही कोई माइक, 100 साल से ज्यादा पुराने मेले मैदान में गांव से आकर एकत्र हुए 20 हजार से ज्यादा लोग और फिर शुरु हुआ तेज आवाज में गायन। गायन में ऐसी दमदार आवाज, जिसे दूर से सुना जा सके। ऐसे गानों को लिए 52 टोलियां जुटीं और एक टोली में एक साथ 50 लोगों ने गाना गाए।


-ग्रामीण लोग इसे कन्हैया गायन कहते हैं, जिसमें दमदार आवाज में भजन पेश किए जाते हैं। सोमवार की शाम को दर्जनों गांव के 20 हजार से ज्यादा लोग मेला मैदान में जुटे।
-ये लोग करीब 114 साल से कन्हैया लोक गायन करते आ रहे हैं। इस गायन में करीब 52 टोलियां थी और हर टोली में 50 लोग थे। बिना माइक और स्टेज के गायन प्रतियोगिता शुरू हुई।

कई घंटे चला यह लोक गायन
-कई घंटे तक चली इस प्रतियोगिता में ग्रामीणों ने लोक गायन किया। आवाज ऐसी दमदार, जिससे पूरा मैदान गूंज गया।
-कई घंटे तक चली प्रस्तुति के दौरान गायक कलाकारों को जोश और खरोश देखते बनता था। खास बात यह है कि इन लोक गायकों को लिए न कोई मंच था न माइक और ना ही कोई साज।
-इस गायन प्रतियोगिता में कुछ लोग ऐसे भी थे, जो चार पीढ़ियों से मेला में आ रहे हैं और इसमें आना किसी पूजा से कम नहीं। सबसे आश्चर्य की बात तो यह है कि इस प्रतियोगिता में कोई भी विजेता नहीं होता है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |
Web Title: à¤à¤¸à¤¸à¥ पहलॠनहà¥à¤ à¤&brvba
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×