Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» Bank Clerk Suicide Note Written On Salary Slip & Jump Above Train

इस सेलरी स्लिप पर सुसाइड नोट लिखकर ट्रेन के सामने कूदा था बैंक क्लर्क

इस सेलरी स्लिप पर सुसाइड नोट लिखकर ट्रेन के सामने कूदा था बैंक क्लर्क

Sameer Garg | Last Modified - Nov 12, 2017, 12:43 PM IST

ग्वालियर. 45 लाख की रकम जुएं में हारने और सूदखोरों के तंग करने के कारण बैंक क्लर्क ने सुसाइड करने से पहले अपनी सेलरी स्लिप में पूरी दास्तान लिखी। इसके बाद रेल ट्रैक पर जाकर सुसाइड कर लिया। क्लर्क ने सुसाइड नोट में लिखा, मैच के जुए में चीटिंग कर मुझसे लाखों रुपए ठग लिए गए हैं, जिससे मैं 3 महीने से डिप्रेशन में था। मैं आत्महत्या कर रहा हूं, इसको हत्या माना जावे। पुलिस ने इसकी जांच शुरू कर दी है। यह है मामला......
-नागरिक सहकारी बैंक के क्लर्क प्रहलाद सिंह यादव ने शनिवार की सुबह यूनिवर्सिटी के पास ट्रेन से कटकर सुसाइड कर लिया था। प्रहलाद ने यह सुसाइड जुए में 45 लाख रुपए की रकम हारने के बाद किया था। यह रकम उसने कई लोगों से उधार ली थी।
-झांसी निवासी प्रहलाद ग्वालियर के नागरिक सहकारी बैंक में क्लर्क था और ग्वालियर में नई सड़क इलाके में रहता था। सुसाइड से पहले उसने अपनी सेलरी स्लिप पर सुसाइड नोट लिखा और पत्नी रजनी से कहकर चला गया।
-बाद में प्रहलाद के मरने की खबर घर आई। पुलिस को प्रहलाद का सुसाइड नोट घर से मिला है। इसमें उसने लिखा है कि मैं मैं आत्महत्या कर रहा हूं, इसको हत्या माना जाए।
कर्ज के लिए मकान बेचा था
-प्रहलाद यादव के परिवार में पत्नी रजनी और 14 साल का बेटा अमन है। पड़ोसियों ने बताया कि 3 महीने पहले यादव ने तेली की बजरिया में स्थित अपने मकान को बेचा था।
-प्रहलाद के छोटे भाई राघवेंद्र का कहना है कि एक महीने पहले भाई मौंठ स्थित अपने घर आए थे, तब परेशान थे। उन्होंने कहा था कि उन्हें कुछ कर्जदार परेशान कर रहे हैं। उनका कर्जा निपटाकर जल्द ही घर आएंगे।

यह लिखा सुसाइड नोट में
-मेरे 45 लाख रुपए जेके जैन ने होटल प्रभा इंटरनेशनल के रूम नंबर 309 में मैच का जुआ में चीटिंग कर हड़प लिए हैं, अब कोई रास्ता नहीं दिख रहा, इसलिए यह कदम उठा रहा हूं।
-मैं आत्महत्या कर रहा हूं, इसको हत्या माना जावे। मेरे 45 लाख रुपए जेके उर्फ संजू जैन ने होटल प्रभा इंटरनेशनल माधव नगर चौराहा रूम नंबर 309 में मैच में जुआ में मेरे साथ चीटिंग करके हड़प लिए हैं।
-मैंने अपना मकान, पत्नी की ज्वैलरी और पूरे जीवन की बचत जेके उर्फ संजू जैन को हार गया। पिछले 3 महीने से बहुत डिप्रेशन में हूं। कोई रास्ता नहीं दिख रहा है। इसलिए यह कदम उठा रहा हूं।
-मकान का पूरा पैसा, ज्वैलरी का पूरा पैसा बचत का पूरा पैसा, कर्जदारों का पूरा पैसा जेके ने ठग लिया है होटल में बुला-बुलाकर। जेके पर हत्या का केस लगाकर मेरे परिवार को पूरा पैसा दिलाएं।
-गवाह के रूप में ये नाम हैं पप्पू डेनीशन माधौगंज, जिन्होंने मुझे जेके उर्फ संजू जैन से मिलवाया था। बृजेश गुप्ता पार्षद, हेमंत कुशवाह कारबारी मोहल्ला, गज्जू धाकड़ ईदगाह।
-मेरे ऑफिस वालों से निवेदन है कि मेरे परिवार को सहानुभूति के साथ मदद जरूर करें। पत्नी के पास कुछ नहीं है।कर्जदारों के नाम पुलिस को जरूर बताना।
-सभी मेरे ऑफिस के साथियों को राधे-राधे, बच्चे एवं पत्नी से क्षमा मांगता हूं। कर्जदारों की सूची मेरी पत्नी के पास है, मुझे नौकरी नहीं करने दे रहे हैं।
पुलिस ने जांच शुरू की
-इस मामले में यूनिवर्सिटी थाने के टीआई राजकुमार शर्मा का कहना है कि बैंक क्लर्क ने ट्रेन से कटकर आत्महत्या की है। सुसाइड नोट में मैच का जुआ हारना और कर्जदारों द्वारा परेशान करना वजह बताई गई है। मामले की जांच की जा रही है।
स्लाइड्स में है इस मामले के फोटोज.........
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×