Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» Both Husband Abandons Because Daughters Birth

बेटी जन्मी तो पहले पति ने छोड़ा, दूसरे पति ने भी दो बेटियों के बाद किया बेसहारा

बेटी जन्मी तो पहले पति ने छोड़ा, दूसरे पति ने भी दो बेटियों के बाद किया बेसहारा

Pushpendra Singh | Last Modified - Oct 31, 2017, 07:33 PM IST

ग्वालियर.शिवपुरी की एक महिला को दो पतियाों ने महज इसलिए घर से निकाल दिया कि उसने बेटियों को जन्म दिया, जबकि पति बेटा चाहता था। पति ने एक बेटी के जन्म के बाद छोड़ दिया। महिला वापस मायके आई गई और दूसरे युवक ने शादी कर सहारा दिया, लेकिन वह भी दो बेटियों के जन्म के बाद बेसहारा छोड़ दूसरी औरत के साथ लिव इन में रहने लगा। बेसहारा महिला का दर्द है कि इस उम्र में 3 बेटियों को वह कैसे पाले। ये है मामला....


- शिवपुरी की मीना की शादी ग्वालियर के वकील खान से 2003 में हुई थी। सब कुछ ठीक था, शादी के एक साल बाद मीं मां बनी, लेकिन पति को खुशी नहीं हुई क्योंकि मीना ने बेटी रेशमा को जन्म दिया था। बेटे की चाहत रखने वाले वकील खान ने मीना को तलाक दे घर से निकाल दिया।
- मीना बेटी रेशमा को लेकर वापस मायके शिवपुरी आ गई। इस दौरान उसकी मुलाकात विश्राम धाकड़ से हुई, दोनों करीब आए और विश्राम ने मीना से शादी कर ली। मीना व विश्राम करीब 11 साल साथ रहे, इस दौरान रेशमा ने 8 साल की आरजू औऱ 6 साल की महक को जन्म दिया।

- लगातार दो बेटियों के जन्म के बाद से विश्राम भी मीना से कटा-कटा रहने लगा। इस बीच मीना फिर प्रेग्नेंट हुई तो पति ने गर्भ में लड़की होने की बात सामने आते ही अबॉर्शन करा दिया।
- इसके बाद बेटे की उम्मीद में मीना का दूसरा पति विश्राम भी हाल ही में उसे छोड़ कर चला गया और किसी दूसरी महिला के साथ लिव-इन में रहने लगा।


इस उम्र में कैसे पालूं तीन बेटियां
- मंगलवार को मीना अपनी तीनों बेटियों को साथ ले शिवपुरी के कलेक्टर तरुण राठी के पास पहुंची और अपनी पीड़ा सुनाई। मीना ने गुहार लगाई है कि अब उसकी उम्र 35 पार की है। मीना ने कलेक्टर को मजबूरी जताई है कि इस उम्र में वह 12, 8 व 6 साल की तीन बेटियों को कैसे पाले और कैसे उन्हें शिक्षा दिलाकर उनका भविष्य बनाए।
- कलेक्टर ने मीना से आवेदन लेकर महिला एवं बाल विकास विभाग को उसके रोजगार व पुनर्वास की व्यवस्था के लिए रिकमेंड कर दिया है।


स्लाइड्स में है तीन बेटियों के साथ कलेक्टर से गुहार लगाने पहुंची बेसहारा मां....

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×