--Advertisement--

पति के दोस्त से हुआ प्यार, अड़ंगा डाला तो प्रेमी से कहा मार दो तभी मिलेगा सुकून

पति के दोस्त से हुआ प्यार, अड़ंगा डाला तो प्रेमी से कहा मार दो तभी मिलेगा सुकून

Dainik Bhaskar

Nov 26, 2017, 06:53 PM IST
शंकर की बॉडी मिलने के बाद परिज शंकर की बॉडी मिलने के बाद परिज

ग्वालियर. दतिया में पत्नी को पति के दोस्त से प्यार हो गया। पति को भनक लगी तो वह आए दिन पत्नी की मारपीट करने लगा, लेकिन पत्नी प्रेमी को घर में से आने रोकने के लिए तैयार नहीं हुई। आखिरकार पत्नी ने प्रेमी से कहा कि उसके साथ सुकून की जिंदगी बितानी है तो पति को मार डालो। इसके बाद उसने खुद योजना बनाकर प्रेमी के हाथों पति की हत्या करा दी। ये है मामला....


- बीते 23 नवंबर को दतिया के उड़नू की टोरिया इलाके में अप रेलवे ट्रैक पर बने पुल के नीचे एक डैड बॉडी होने की सूचना पर बड़ौनी पुलिस मौके पर पहुंची। प्रारंभिक जांच में पता चला कि मृतक का सिर कुचला गया था, उसमें सात-आठ गहरे घाव थे। मृतक की जेब में प्रसाद रखा था और दाहिने हाथ पर शंकर लिखा था। पुलिस ने शिनाख्त के लिए आसपास के थानों में सूचना भिजवा दी।
- शुक्रवार 24 नवंबर की सुबह मृतक की शिनाख्त रिछरा गांव के 30 साल के शंकर अहिरवार के रूप में हुई है। मृतक के परिजन ने कपड़ों के आधार पर शंकर की हत्या की तस्दीक कर दी।परिजन ने बताया कि मृतक दतिया में ही अपनी पत्नी बबली के साथ रहता था, वह राज मिस्त्री था।
- छानबीन के दौरान पुलिस को शंकर के कुछ साथी मजदूरों से पता चला कि उसकी पत्नी बबली और साथी राज मिस्त्री रघुवीर के बीच नाजायज संबंध हैं, और शंकर की मौत के बाद से दोनों का मेलजोल बढ़ गया है।
- पुलिस ने संदेह के आधार पर रघुवीर को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की तो उसने शंकर की हत्या स्वीकार कर ली।


पति के दोस्त से हुआ अफेयर, पति आड़े आए तो मरवा दिया
- शंकर और रघुवीर एक ही गांव के रहने वाले हैं। दो साल से दोनों एक साथ राज मिस्त्री का काम कर रहे थे। एक ही गांव के होने की वजह से रघुवीर का शंकर के घर आना जाना बी ज्यादा था।
- इसी दौरान रघुवीर के दोस्त शंकर की पत्नी बबली से नाजायज संबंध बन गए। इसकी भनक शंकर को लगी तो उसने रघुवीर का घर आना जाना रोक दिया।

- शंकर जब भी बबली से रघुवीर को घर में नहीं आने देने के लिए कहता था, उसका पत्नी से झगड़ा होने लगा। शंकर को जब भी पता लगता की उसकी गैर-मौजूदगी में रघुवीर बबली से मिलने घर आया ता तो वह बबली की मारपीट करता था।

बबली ने कहा सुख से मेरे साथ रहना है तो शंकर को मार दो
- रघुवीर और उसके दोस्त शंकर की पत्नी बबली के बीच में प्रेम संबंध इतना आगे बढ़ गए थे, दोनों एक दूसरे से अलग नहीं रहना चाहते के, लेकिन शंकर प्रेम संबंधों में बाधा बन रहा था।
- बबली ने प्रेमी रघुवीर से कहा कि वह जब तक शंकर को मार नहीं डालेगा, दोनों सुख से नहीं रह सकेंगे।
- बबली ने शंकर की हत्या की पूरी प्लानिंग की। रणनीति के मुताबिक 21 नवंबर को आरोपी रघुवीर शंकर को अपने साथ सुखदेव बाबा की पहाड़ी पर बने मंदिर में दर्शन कराने ले गया।

- उसने साथ लाया हुआ प्रसाद मंदिर से लौटते वक्त शंकर को दिया, जिसमें बबली ने नशीला पदार्थ मिलाया था।

- नशीले प्रसाद को असर करते देख रघुवीर शंकर को घने जंगल से घिरी रेलवे पटरी के पास ले आया और पुल के नीचे से निकलते वक्त शंकर के सिर में पीछे से पत्थर मार दिया।
- सिर में पीछे के हिस्से में चोट लगते ही शंकर बेहोश हो गया। इसके बाद रघुवीर ने पत्थर के कई वार ताबड़तोड़ पत्थर शंकर के सिर में किए, नतीजतन उसकी मौत हो गई।

- खून से सने हाथों को रघुवीर ने पुल की दीवार पर रगड़कर साफ किया, और खून के धब्बे लगे कपड़ों को शंकर के ही घर में एक प्लास्टिक की बोरी में रख कर छिपा दिया था। प्लान था कि जब पुलिस की छानबीन शांत हो जाएगी, इन कपड़ों को कहीं बहुत दूर ले जाकर ठिकाने लगा दिया जाएगा।
- पुलिस ने रघुवीर को हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है, जबकि शंकर की पत्नी बबली को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

स्लाइड्स में है दोस्त की पत्नी के लिए उसकी हत्या का आरोपी....

X
शंकर की बॉडी मिलने के बाद परिजशंकर की बॉडी मिलने के बाद परिज
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..