--Advertisement--

पिता न्यूज पेपर पढ़ते रहे, तब तक युवक ने कमरे में जाकर कर लिया सुसाइड

पिता न्यूज पेपर पढ़ते रहे, तब तक युवक ने कमरे में जाकर कर लिया सुसाइड

Dainik Bhaskar

Nov 21, 2017, 03:06 PM IST
घर पर ही फांसी लगाकर 22 साल के अर घर पर ही फांसी लगाकर 22 साल के अर

ग्वालियर. माधौगंज इलाके में एक युवक ने मंगलवार की सुबह पिता के साथ बैठकर न्यूज पेपर पढ़ा। इसके बाद वह कमरे में चला गया। करीब दो घंटे तक वह कमरे से बाहर नहीं निकला तो पिता देखने गए। कमरा बंद था। उन्होंने खिड़की से झांका तो बेटा छत से लटका हुआ था। उन्होंने तुरंत छोटे बेटे को बुलाया और दरवाजा तोड़ा। सभी लोगों ने युवक को उतारा और हॉस्पिटल ले गए, लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी। यह है मामला.......


-माधौगंज इलाके की शिव कॉलोनी में राजेन्द्र सिंह भदौरिया रहते हैं। उनका 22 साल का बेटा अरविंद घर पर ही पीएससी की तैयारी कर रहा है। मंगलवार की सुबह अरविंद उठा और पिता के साथ बैठकर न्यूज पेपर पढ़ने लगा।
-इसके बाद उसने न्यूज पेपर पिता को दिया और घर के ऊपर बने कमरे में चला गया। करीब दो घंटे तक अरविंद कमरे से नहीं निकला। पिता राजेन्द्र सिंह उसे बुलाने गए तो कमरा बंद था।

कमरे में फांसी लगाकर किया सुसाइड
-उन्होंने खिड़की से झांका तो अंदर अरविंद छत से लटका हुआ था। वे जोर से चिल्लाए तो अरविंद का छोटा भाई और पड़ोसी पहुंचे। दरवाजा तोड़कर छत से लटके हुए अरविंद को उतारा। उस समय उसकी सांसें चल रही थीं।
-परिजन उसे लेकर तुरंत हॉस्पिटल भागे, लेकिन वहां डॉक्टर ने बताया कि अरविंद की मौत हो चुकी है। बेटे के मौत के बाद वे डेड बॉडी लेकर घर पहुंच गए। बाद में पुलिस पहुंची, लेकिन राजेन्द्र सिंह बेटे की डेड बॉडी का पोस्टमार्टम करवाने को तैयार नहीं हुए।
-जांच करने पहुंची पुलिस ने बताया कि अरविंद ग्रेजुएट होने के बाद घर पर रहकर ही पीएससी की तैयारी कर रहा था। उसने सुसाइड क्यों किया, इसका खुलासा नहीं हो सका है और न ही कोई सुसाइड नोट मिला है।

स्लाइड्स में है इस मामले के फोटोज....

X
घर पर ही फांसी लगाकर 22 साल के अरघर पर ही फांसी लगाकर 22 साल के अर
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..