--Advertisement--

एक स्कूल ऐसा भी... / एक ही कमरे में चार शिक्षक 94 बच्चों को एकसाथ बैठाकर पढ़ाते हैं



classroom problems in government school in sheopur
X
classroom problems in government school in sheopur

Dainik Bhaskar

Oct 14, 2018, 03:44 AM IST

श्योपुर.  जिला मुख्यालय से 27 किलोमीटर दूर श्योपुर विकासखंड की ग्राम पंचायत कुड़ायथा में संचालित शासकीय प्राथमिक विद्यालय की स्थापना सन् 1952 में की गई थी। लेकिन 70 साल बाद भी विद्यालय एक कमरे के भवन में सिमटा हुआ है।

 

विद्यालय में दर्ज 94 बच्चों के बैठने के लिए 14 बाई 16 फीट के कमरे में कक्षावार ग्रुप में टाटपट्‌टी बिछाई जाती है। इसी एक कमरे में थोड़े- थोड़े अंतराल पर कुर्सी लगाकर 4 शिक्षक अपनी अपनी क्लास लेते हैं। इस दौरान बच्चों को एक दूसरे से इतना सटकर बैठते हैं कि अपने पैर तक नहीं हिला पाते हैं। एक ही तरह से बैठने से बच्चों के पैर अकड़ने और दुखने लगते हैं। इस वजह से विद्यालय में छात्र उपस्थिति संख्या कम रहती है।  
 

ग्रामसभा की बैठक में ठहराव करके प्रस्ताव जिला प्रशासन को कई बार भेजे गए हैं। लेकिन विद्यालय भवन मंजूर नहीं हुआ है। बच्चों को एक छोटे से कमरे में भेड़-बकरी की तरह बैठकर पढ़ते देखकर उनके अभिभावक दुखी होते हैं। - सरस्वती नागर, सरपंच, कुड़ायथा

एक कमरे के भवन में स्कूल का संचालन करने में दिक्कतें तो आती हैं। एक साथ सभी चार शिक्षक कक्षावार बच्चों को समूह में बैठाकर पढ़ाते हैं। इस समस्या से विभागीय बैठकों में हर बार वरिष्ठ अधिकारियों को बताते हैं। - सुनीता बाथम, हेडमास्टर

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..