सिंधिया जी यदि झाड़ू भी पकड़ा देंगे तो भी खुश रहूंगी : इमरती देवी

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • मंत्री बनने के बाद पहली बार आई थी ग्वालियर
  • भाजपा ने लगाया बहू को प्रताड़ित करने का आरोप

ग्वालियर. प्रदेश की महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने कहा कि ये विभाग उन्हें पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया जी ने दिलवाया है, यदि वे उन्हें झाड़ू भी पकड़ा देंगे तो भी मैं खुश रहूंगी। वे संवाददाताओं के मंत्रालय को लेकर कितनी संतुष्टि सवाल का जवाब दे रही थीं। उन्होंने कहा कि वे विभाग के बारे में पूरी जानकारी लेने के साथ ही वरिष्ठ लोगों के मार्गदर्शन में काम करेंगी ताकि हर जरूरत मंद को उनके विभाग की योजनाओ का लाभ मिल सके।  

 

शहर में आभार यात्रा निकालने के बाद देर शाम कार्यालय पहुंचने पर शहर जिला अध्यक्ष देवेंद्र शर्मा ने शॉल पहनाकर उनका स्वागत किया। इस अवसर पर ग्रामीण कांग्रेस के अध्यक्ष मोहन सिंह राठौड़ ने इमरती देवी से महीने में एक बार कांग्रेस कार्यालय आकर कार्यकर्ताओं की समस्याएं सुनने का सुझाव दिया। इस पर उन्होंने कहा - अध्यक्ष जी मैं एक बार नहीं, जरूरत पड़ने पर दो बार कार्यालय आऊंगी। लेकिन मुझे पूरा प्रदेश भी देखना है। ऐसे में आप लोगों को भी कमान संभालनी होगी। अपनी प्राथमिकताएं गिनाते हुए उन्होंने सबसे पहले कुपोषण का कलंक हटाने की दिशा में काम करने की बात कही।  

 

मंत्री बनाने का भाजपा ने किया विरोध : इमरती देवी को महिला बाल विकास मंत्री बनाने का भाजपा ने विरोध किया है। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राहुल कोठारी ने इसकी कहा कि इमरती देवी के ऊपर उनकी बहू क्रांति जाटव से जोर जबरदस्ती, मारपीट और घरेलू हिंसा का मामला दर्ज व विचाराधीन है। अपने रुतबे का इस्तेमाल करके इमरती देवी ने बहू का केस थाने में दर्ज नहीं होने दिया। जिसके चलते कोर्ट से निर्देश हुआ और बाद में मामला दर्ज हुआ। कोठारी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और मुख्यमंत्री कमलनाथ से उन्हें मंत्रिपरिषद से हटाने की मांग की है।