मुरैना / कोर्ट के बाहर पिता को लाठी-डंडों से पीट पीटकर किया लहूलुहान, महिला का अपहरण कर ले गया पहला पति

Dainik Bhaskar

Mar 16, 2019, 12:30 PM IST


crime
X
crime
  • comment

मुरैना। पहले पति के छोड़ने के बाद कोर्ट में चल रहे केस में सुनवाई के बाद विवाहिता जैसे ही बाहर निकली, तभी लाठी-डंडों से लैस होकर आए पहले पति ने अपने पिता, भाइयों व 10-12 लोगों के साथ आकर हमला कर दिया। 


आरोपियों ने विवाहिता के पिता और दूसरे पति के बड़े भाई (जेठ) को पीट-पीटकर लहूलुहान कर दिया। साथ ही विवाहिता के फूफा को भी पीटा। इसके बाद विवाहिता का अपहरण कर उसे स्कॉर्पियो में डालकर ले गए। घटना कोर्ट के सामने गुरुवार दोपहर 2 बजकर 8 मिनट की है। हमला व अपहरण की पूरी वारदात कोर्ट के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई। घटना के आधा घंटे बाद सिटी कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची, तब तक दोनों घायल अस्पताल पहुंच चुके थे। 


जानकारी के अनुसार कैथोदा निवासी रामअवतार कुशवाह ने अपनी बेटी रेखा का ब्याह छह साल पहले मटकौरा निवासी जगदीश पुत्र अमरसिंह के साथ किया था, लेकिन शादी के कुछ दिन बाद अमर सिंह ने रेखा को मायके भेज दिया। वहीं रेखा का कहना है कि उसका पति उसे शारीरिक सुख नहीं दे पाता था, इसलिए वह भी लौटकर ससुराल नहीं गई।

 

इसी दौरान आरोपी पति जगदीश ने कोर्ट में धारा 9 के तहत परिवार पुनर्स्थापना का आवेदन पेश किया। यह मामला कोर्ट में विचाराधीन था। इसी बीच छह महीने पहले रेखा का ब्याह उसके पिता रामअवतार ने गंजरामपुर निवासी भूरा के साथ कर दिया। गुरुवार को जगदीश द्वारा दायर मामले में रेखा अपने पिता रामअवतार व जेठ गादीपाल के साथ बयान देने के लिए कोर्ट आई। 

 

 

परिवार न्यायालय में बयान दर्ज कराने के साथ ही रेखा ने धारा 24 के तहत गुजारा भत्ता की मांग भी की। इसके बाद वह दोपहर 2 बजकर 5 मिनट पर जैसे ही कोर्ट परिसर से बाहर निकली। बाहर पहले से खड़े उसके पहले पति जगदीश, उसके पिता अमर सिंह, भाई बल्लू व विनोद सहित 10-12 लोगों ने उनके ऊपर लाठी-डंडों से हमला कर दिया। हमले में रेखा का पिता रामअवतार व जेठ गादीपाल सिर में चोट लगने से लहूलुहान होकर सड़क पर गिर गए। इसी दौरान आरोपीगण रेखा को अपनी स्कॉर्पियो गाड़ी में डालकर अपहरण कर ले गए। 

COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन