दतिया / परिजन के साथ नदी में पानी भरने गए थे दो सगे भाई ट्रैक्टर पलटने से ट्रॉली के नीचे दबने से दोनों की मौत



datia
X
datia

Dainik Bhaskar

Jun 05, 2019, 02:27 PM IST

दतिया। भाषड़ाखुर्द गांव में दो सगे भाइयों की ट्रैक्टर ट्रॉली के नीचे दबने से मौत हो गई। घटना मंगलवार सुबह साढ़े 8 बजे की है। दोनों बच्चे अपने परिवार के ही लोगों के साथ महुअर नदी से पानी भरने के लिए ट्रैक्टर पर बैठकर गए थे। दोनों बालकों ने परिवार के लोगों के साथ ट्रॉली में रखे ड्रमों को नदी के पानी से भर लिया।

 

इसके बाद जब ट्रैक्टर को घर ले जा रहे थे, तभी नदी की ढलान पर ट्रैक्टर फिसल गया जिससे ट्रॉली नदी में जाकर पलट गई और उसी के नीचे दोनों बालक भी ट्रॉली के नीचे ही दब गए। इस घटना में दोनों सगे भाइयों की दर्दनाक मौत हो गई। 


जानकारी के अनुसार ग्राम भाषड़ाखुर्द में पेयजल संकट है। गांव के लोग पास से निकली महुअर नदी का पानी भरकर ले जाते हैं और उसी पानी को पीने में उपयोग करते हैं। रोज की तरह मंगलवार को सुबह आठ बजे भाषड़ाखुर्द निवासी बलवीर रावत के दोनों बेटे कृष्ण रावत (10) और केशवेंद्र रावत (7) परिवार के लोगों के साथ नीले रंग के ट्रैक्टर-ट्रॉली में पानी की दो टंकियां रखकर नदी पर पहुंचे। यहां दोनों बालकों कृष्ण और केशवेंद्र ने टंकियों को भरवाया। जब टंकियां भर गईं तो ट्रॉली में बैठकर वापस घर जा रहे थे। 

 

जैसे ही ड्राइवर ने ट्रैक्टर को नदी की ढलान पर चढ़ाया तभी ट्रैक्टर का पहिया फिसल गया और वह बैक होकर नदी में वापस पहुंचकर पलट गया। जिससे ट्रॉली में बैठे दोनों बच्चे ट्रॉली के नीचे नदी में दब गए। परिवार के लोग आनन फानन में बच्चों को ट्रॉली के नीचे से निकालकर जिला अस्पताल ले गए, जहां से बच्चों को ग्वालियर रैफर कर दिया गया लेकिन रास्ते में बच्चों ने दम तोड़ दिया। पुलिस ने दोनों बच्चों का पीएम कराकर परिवार के सुपुर्द किया और शाम को दोनों का दाह संस्कार एक साथ एक ही स्थान पर गांव के बाहर किया गया।

 
दो बेटे थे, दोनों की मौत, आरोपी चालक का भी सुराग नहीं 
ग्राम भाषड़ाखुर्द निवासी बलवीर रावत की दो बेटे थे और दोनों की एक साथ मौत हो गई। हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि ट्रैक्टर कौन चला रहा था। न परिजन देर शाम तक थाने पर रिपोर्ट लिखवाने पहुंचे थे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना