--Advertisement--

ग्वालियर / कॉलेज क्लर्क का तबादला आदेश संदिग्ध, मामला भोपाल तक पहुंचा

Dainik Bhaskar

Jan 12, 2019, 01:58 PM IST


gwalior news
X
gwalior news

ग्वालियर। उच्च शिक्षा विभाग से छह दिन पहले आए एक क्लर्क के ट्रांसफर ऑर्डर पर विवाद खड़ा हो गया है। इस ऑर्डर के फर्जी होने की आशंका जताई जा रही है। क्लर्क शिकायत लेकर भोपाल में आयुक्त उच्च शिक्षा के कार्यालय तक पहुंच गए हैं। क्लर्क ने अफसरों को ट्रांसफर ऑर्डर की विसंगतियों के बारे में बताया। इसके बाद आनन-फानन में जानकारी जुटाई गई तो पता चला कि इस कार्यालय से ट्रांसफर ऑर्डर जारी ही नहीं हुआ है। अब पता किया जा रहा है कि अतिरिक्त संचालक उच्च शिक्षा के ऑफिस में यह ऑर्डर किस ई मेल एड्रेस से भेजा गया है। 

 


शासकीय कॉलेज, भितरवार में तैनात क्लर्क राकेश जोशी का ट्रांसफर ऑर्डर आयुक्त उच्च शिक्षा भोपाल के ऑफिस से 5 जनवरी को जारी किया गया था। 6 जनवरी की शाम को ई मेल के जरिए अतिरिक्त संचालक उच्च शिक्षा के ऑफिस यह ऑर्डर पहुंचा। इसके साथ ही कॉलेज में भी यह ट्रांसफर ऑर्डर पहुंच गया था। क्लर्क राकेश जोशी को इस आदेश पर शंका हुई तो उन्होंने कॉलेज की प्राचार्य विमलेश अग्रवाल से चर्चा की। क्लर्क की आशंका पर प्राचार्य ने अतिरिक्त संचालक डॉ. एमआर कौशल के ऑफिस में पत्र भेजकर इस आदेश की पुष्टि करना चाही। इस पर अतिरिक्त संचालक ने प्राचार्य को पत्र जारी किया कि प्राचार्य ने पुष्टि के लिए जो पत्राचार किया है, वह कदाचरण की श्रेणी में आता है। आइंदा से ऐसा पत्राचार नहीं करें। इसके बाद क्लर्क को रिलीव कर दिया गया। 

 

शिकायत पर हुआ खुलासा: क्लर्क जोशी इस मामले की शिकायत लेकर आयुक्त उच्च शिक्षा विभाग के ऑफिस पहुंचे तो पता चला कि वहां से यह आदेश निकाला ही नहीं गया है। जबकि आदेश में स्पष्ट है कि इसे आयुक्त उच्च शिक्षा विभाग के कार्यालय से निकाला गया है और इस पर अवर सचिव वीरन सिंह भलावी के हस्ताक्षर हैं। श्री भलावी आयुक्त कार्यालय में पदस्थ नहीं हैं वह वल्लभ भवन में पदस्थ हैं। 

Astrology

Recommended

Click to listen..