ग्वालियर / पुलिस की राइफल लूटकर भागा भीमा 50 हजार के इनामी अजय के साथ पकड़ा

Dainik Bhaskar

Mar 16, 2019, 06:05 PM IST


gwalior news
X
gwalior news
  • comment

ग्वालियर। पुलिस पर हमला कर फरार हुए 30 हजार के इनामी भीम उर्फ भीमा यादव को पुलिस ने 97 दिन बाद उत्तरप्रदेश के अंतरराज्यीय बदमाश 50 हजार रुपए के इनामी अजय यादव उर्फ अजय जडेजा के साथ जौरासी घाटी से गिरफ्तार किया है। इनके साथ भीमा का भाई देवेंद्र उर्फ फौजी और साला अवनीश सहित दो अन्य बदमाश भी पुलिस के हाथ लगे हैं। इनके पास से बिना नंबर की दो कार क्रेटा और इंडिगो, तीन पिस्टल एवं तीन देशी कट्टे भी बरामद हुए हैं। भीमा को पुलिस अभिरक्षा से भगाने वाला मास्टर माइंड अजय यादव ही था। पुलिस लूटी गई एक राइफल पहले ही बरामद कर चुकी थी। दूसरी राइफल के बारे में पूछताछ की जा रही है। 


एसपी ऑफिस में आईजी राजाबाबू सिंह, डीआईजी एके पांडेय, एसपी नवनीत भसीन और एएसपी पंकज पांडे ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में इन बदमाशों की गिरफ्तारी की जानकारी दी। अफसरों के मुताबिक गुरुवार को तड़के मिली सूचना के आधार पर क्राइम ब्रांच के विनोद छावई को मय टीम के डबरा-ग्वालियर हाइवे पर भेजकर वाहनों की चेकिंग शुरू कराई गई। आधा घंटे बाद एक कार को जब रोका गया तो बदमाशों ने उतरकर भागने की कोशिश की। पीछे चल रही दूसरी कार से भी लोग उतरे और भागे। पुलिस ने पीछा कर सभी को पकड़ लिया। 


पकड़े गए बदमाशों में भीमा उर्फ जितेंद्र यादव निवासी हेबतपुरा भिंड, अजय उर्फ जडेजा उर्फ जनक पुत्र निरपत यादव महलगांव झांसी, देवेंद्र उर्फ फौजी पुत्र सुरेश यादव, अवनीश पुत्र श्याम यादव अजबपुरा मैनपुरी, संदीप उर्फ जीतू जितेंद्र पुत्र सुरेश बघेल किशनी मैनपुरी, प्रदीप उर्फ कुंदन यादव कुर्रा मैनपुरी शामिल हैं। 

 

पत्नी व बच्चों के साथ मुंबई में रह रहा था भीमा : फरारी के बाद भीमा यादव अपने साले अवनीश के साथ कुछ दिन कानपुर और फिरोजाबाद में रहा। इसी दौरान भीमा व उसके भाई की ससुराल के माध्यम से अजय जडेजा भी इनके संपर्क में आया। जडेजा ने इन्हें फरारी काटने के लिए मुंबई भेज दिया। माह पहले एटीएस भोपाल व क्राइम ब्रांच ग्वालियर की टीम दबिश देने मुंबई गई थी। एक मंदिर में भीमा व उसकी पत्नी के फुटेज भी पुलिस को मिले थे, लेकिन वह हाथ नहीं आया। इसके बाद भीम के फोटो व डिटेल मुंबई पुलिस के साथ शेयर कर टीम लौट आई थी। अवनीश, भीमा के सरेंडर कराने की कोशिश भी लगातार कर रहा था। पुलिस के मुंबई पहुंचने की सूचना फेसबुक से अवनीश को मिली तो उसने भीमा को फिरोजाबाद शिफ्ट करवा दिया। चर्चा है कि यहीं से पुलिस ने उसे लिफ्ट किया। 

COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन