ग्वालियर / आईआईटी, ट्रिपल आईटीएम में बढ़ेगी छात्राओं की संख्या

Dainik Bhaskar

Mar 16, 2019, 03:20 PM IST


iitm gwalior
X
iitm gwalior
  • comment

इंजीनियरिंग फील्ड में छात्राओं की संख्या बढ़ाने के लिए उठाया कदम 

ग्वालियर। आईआईटी के लिए जेईई की तैयारी कर रहीं गर्ल्स के लिए यह अच्छी खबर है। इस साल सुपरन्यूमरेरी सीट का कोटा 17 प्रतिशत हो सकता है, जबकि पिछले वर्ष यह 14 प्रतिशत था। कुछ समय पहले इसको लेकर एमएचआरडी की ओर से एक बैठक भी की जा चुकी है, जिसमें यह तय किया गया था। लेकिन अभी अधिकारिक रूप से इसकी घोषणा होना बाकी है। 

 

17 प्रतिशत कोटा होने की स्थिति में आईआईटी में छात्राओं की संख्या 2 हजार से अधिक हो जाएगी। इसके अलावा एनआईटी और ट्रिपल आईटी में भी सुपरन्यूमरेरी सीट का फायदा छात्राओं को मिलेगा। अटल बिहारी वाजपेयी इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट (एबीवी ट्रिपल आईटीएम) के डॉ. जॉयदीप धर का कहना है कि सुपरन्यूमरेरी कोटा बढ़ाने की बात कही गई है, लेकिन अधिकारिक तौर पर इसकी जानकारी जारी नहीं की गई है। उम्मीद की जा रही है कि यह जल्द ही जारी होगी। इंजीनियरिंग फील्ड में गर्ल्स की संख्या बढ़ेगी। 


2020-21 तक 20% होंगी गर्ल्स : एक्सपर्ट का कहना है कि साल 2020-21 तक आईआईटी में 20 प्रतिशत गर्ल्स होंगी। इसके लिए ही सुपरन्यूमरेरी कोटा तय किया गया है। यह पिछले साल से लागू किया गया है, पिछले साल यह 14 प्रतिशत था, जो इस बार बढ़ाया जा रहा है। इसके अलावा इस वर्ष 17% और आगामी वर्ष में यह प्रतिशत बढ़कर 20% तक हो जाएगा।

 

इसका भी मिलेगा लाभ : इस बार संस्थानों में आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग को भी 10 प्रतिशत आरक्षण का भी फायदा दिया जा रहा है। इसमें छात्राओं को फायदा मिलेगा। अब आईआईटी में छात्राओं के पास सुपरन्यूमरेरी, ईडब्लयूएस और ओपन कैटेगरी में एडमिशन लेने का मौका होगा। ज्यादा जानकारी के लिए एनटीए की वेबसाइट पर लिंक जारी की जा चुकी है। जो विद्यार्थी जनवरी में जेईई मेन दे चुके हैं, वह भी इसमें करेक्शन कर सकते हैं। इसके लिए भी लिंक दी गई है। इस लिंक पर अपनी कैटेगरी के मुताबिक छात्राओं को दस्तावेज अपलोड करने होंगे। जिसके बाद उन्हें फायदा मिलेगा। 

COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन