--Advertisement--

मध्य प्रदेश / कांग्रेस प्रत्याशी से ईवीएम हैक कर वोट दिलाने के नाम पर मांगे ढाई लाख रुपए, आरोपी गिरफ्तार



ग्वालियर में नीरज से पूछताछ करती पुलिस। साथ में कांग्रेस प्रत्याशी रमेश दुबे। ग्वालियर में नीरज से पूछताछ करती पुलिस। साथ में कांग्रेस प्रत्याशी रमेश दुबे।
X
ग्वालियर में नीरज से पूछताछ करती पुलिस। साथ में कांग्रेस प्रत्याशी रमेश दुबे।ग्वालियर में नीरज से पूछताछ करती पुलिस। साथ में कांग्रेस प्रत्याशी रमेश दुबे।

  • बेरोजगार है नीरज, स्कूल में नौकरी कर पत्नी चलाती है घर का खर्च
  • ईवीएम का फुल फॉर्म भी नहीं जानता ठगी करने आया 12वीं फेल आरोपी 

Dainik Bhaskar

Dec 06, 2018, 11:57 AM IST

ग्वालियर. ईवीएम में डिवाइस लगाकर प्रत्याशी के पक्ष में पूरे वोट पहुंचाने का झांसा देकर ठगी करने वाले युवक नीरज सिंह राठौर को पुलिस ने भिंड के कांग्रेस प्रत्याशी रमेश दुबे की मदद से पकड़ लिया। उसने दुबे को डिवाइस लगाकर ईवीएम हैक करने का झांसा दिया था। कांग्रेस प्रत्याशी उसकी चालाकी समझ गए और उसे ही फोन पर बातों में उलझा लिया। बुधवार को उसे डील करने के लिए ग्वालियर रेलवे स्टेशन स्थित कमसम फूड प्लाजा में बुलाया और एसपी को सूचना दे दी। कुछ ही देर में पुलिस वहां पहुंची और आरोपी को पकड़ लिया। 

 

आरोपी ने स्वीकार भी किया कि वह 2.5 लाख रुपए ठगने आया था। पुलिस को आशंका है कि हो सकता है उसने कुछ और लोगों से ठगी की हो। गुरुवार को पुलिस उसे कोर्ट में पेश करेगी। कांग्रेस प्रत्याशी ने बताया कि 3 दिसंबर को मेरे मोबाइल पर कॉल आया। अपना नाम अजय सिंह बताकर कहा कि इंजीनियर ईवीएम में डिवाइस लगाएगा और उसे हैक कर लेगा। पूरे वोट भी मुझे ही मिलेंगे। मुझे उसकी बातों पर संदेह हुआ। 

 

एक साल पहले ही पत्नी और बच्चों के साथ आया था ग्वालियर 
ईवीएम हैक कर कांग्रेस प्रत्याशी को पूरे वोट दिलाने का झांसा देने वाला 12वीं फेल आरोपी नीरज सिंह बहुत शातिर है। वह ईवीएम का फुल फॉर्म भी नहीं जानता, लेकिन उसने यह तरीका सिर्फ इसलिए अपनाया क्योंकि वह जानता था कि ईवीएम हैक करना अपराध है, इसलिए हैकिंग के नाम पर रुपए देने वाला प्रत्याशी किसी से शिकायत नहीं करेगा। यह खुलासा उसने पुलिस की पूछताछ में किया है। आरोपी बेरोजगार है, उसकी पत्नी सीमा निजी स्कूल में नौकरी करती है। वही पूरा घर चला रही है। आरोपी का एक बेटा भी है, जो उसी स्कूल में पढ़ता है, जिसमें सीमा पढ़ाती है। वह एक साल पहले ही पत्नी, बच्चों के साथ ग्वालियर आया था। वह शॉर्टकट से पैसा कमाना चाहता था। 

 

आरोपी की प्रोफाइल : 12वीं फेल है 

  • नाम- नीरज सिंह राठौर 
  • पिता का नाम- शिवराज राठौर 
  • उम्र- 33 वर्ष 
  • मूल निवासी- उरई, उत्तरप्रदेश 
  • हाल निवासी- सिकंदर कंपू, ग्वा. 
  • शिक्षा- 12वीं फेल 

 

आरोपी ने फोन पर कहा, साफ्टवेयर इंजीनियर है 

 

उसने मुझे किसी अभय जोशी नाम के व्यक्ति का नंबर दिया। मैंने कॉल किया तो कॉल उठाने वाले ने बोला कि वे सॉफ्टवेयर इंजीनियर है और ईवीएम हैक करता है। मुझे बुधवार को भोपाल जाना था, इसलिए मैंने उसे मिलने के लिए रेलवे स्टेशन के कमसम फूड प्लाजा में बुला लिया। उसने यहां 2.5 लाख रुपए की डिमांड की। मैंने एसपी नवनीत भसीन को कॉल कर दिया।

रमेश दुबे, कांग्रेस प्रत्याशी, भिंड 

 

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..