शिवपुरी / तीनों मासूमों ने तड़पकर दम तोड़ा, मां पर हत्या का केस; मजदूरी करने गए पति के साथ नहीं ले पाने पर आग लगाई थी

शिवपुरी में घरेलू विवाद के बाद महिला अपने तीन बच्चों के समेत खुद को आग लगा ली। तीन बच्चों की मौत हो चुकी है। शिवपुरी में घरेलू विवाद के बाद महिला अपने तीन बच्चों के समेत खुद को आग लगा ली। तीन बच्चों की मौत हो चुकी है।
X
शिवपुरी में घरेलू विवाद के बाद महिला अपने तीन बच्चों के समेत खुद को आग लगा ली। तीन बच्चों की मौत हो चुकी है।शिवपुरी में घरेलू विवाद के बाद महिला अपने तीन बच्चों के समेत खुद को आग लगा ली। तीन बच्चों की मौत हो चुकी है।

  • बड़ी बेटी बोली- दरवाजे की कुंदी खोलकर भागी तो बच गई, ग्वालियर में चल रहा मां का इलाज
  • पति मजदूरी के लिए इंदौर गया था, मायके लौटी पत्नी ने गुस्से में आग लगा ली थी

Dainik Bhaskar

Dec 04, 2019, 02:58 PM IST

शिवपुरी. पिछोर के पारेश्वर गांव में आग की चपेट में आए तीनों मासूम बच्चों ने तड़प-तड़प कर दम तोड़ दिया है। बच्चों की हालत देखकर डॉक्टर से लेकर एंबुलेंस में ग्वालियर ले जाने वाले स्टाफ की भी रूह कांप गई। वहीं, बच्चों को आग लगाने वाली मां वर्षा जाटव भी ग्वालियर में भर्ती है। मामले में पुलिस ने बच्चों की मां वर्षा के खिलाफ हत्या का प्रकरण दर्ज कर लिया है। महिला ने मजदूरी करने गए पति के साथ नहीं ले जाने पर यह कदम उठाया था।

जानकारी के मुताबिक वर्षा (27) पत्नी दिनेश जाटव निवासी पारेश्वर ने सोमवार की शाम 6.30 बजे सास से झगड़ा होने के बाद तीन बच्चों राजा (01) प्राण सिंह (03) एवं प्रियंका (5) के साथ मिट्टी का तेल छिड़ककर आग लगा ली थी। परिजन ने किसी तरह आग बुझाई और चारों को इलाज के लिए पिछोर अस्पताल लेकर पहुंचे। डॉ. सुनील राय ने बताया कि गंभीर हालत को देखते हुए चारों को एंबुलेंस से सीधे ग्वालियर रैफर कर दिया गया था। रास्ते में एक बच्चे की मौत हो गई। दो बच्चों ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। वहीं, आग से खुद मां वर्षा जाटव गंभीर रूप से झुलस गई है। 

बड़ी बेटी बोली- मैं कुंदी खोलकर भाग आई तो बच गई
घटना के वक्त घर में वर्षा की बड़ी बेटी सात साल की प्रियंका भी थी। जब मां ने तीन भाई-बहनों पर केरोसीन डालकर आग लगी कथरी फेंकी तो वह कुंदी खोलकर भाग निकली। चश्मदीद प्रियंका जाटव का कहना है कि मां ने घर की अंदर से कुंदी लगा ली थी। मिट्‌टी का तेल छिड़कर दिया और आग लगाकर कथरी डाल दी। यह देखकर वह कुंदी खोलकर भागकर आ गई। वहीं वर्षा जाटव कभी पति के मजदूरी करने इंदौर चले जाने तो कभी सास-ससुर से झगड़े की बात कह रही है। वर्षा का यह भी कहना है कि देवता परेशान कर रहे थे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना